अब नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी चौंकाने वाली नई भूमिका में

‘‘कोई नहीं जानता कि एक किसान की संतान को इंडस्ट्री (फिल्म) में आने के लिए कितना संघर्ष करना पड़ता है। जिंदगी में यह हासिल करना, केवल एक दूरस्थ सपना ही हो सकता है।’’

नवाजुद्दीन ने ”एन ऑर्डीनरी लाइफ: ए मेमॉयर’’ नामक एक किताब लिखी है जिसमें संघर्ष, उम्मीद, अथक दृढ़ता और सपने देखने की उनकी इच्छा का जिक्र है। अपनी किताब में नवाज लिखते हैं, ‘‘हमारे पास हमेशा एक विकल्प होता है।’’

नवाजुद्दीन ने सोशल मीडिया पर पुस्तक की एक तस्वीर साझा करते हुए अपने प्रशंसकों से पहले से ही पुस्तक का ऑर्डर करने की अपील की। उन्होंने लिखा, ‘‘और अब समय है एक नई भूमिका निभाने का।

छोटे शहर की गुमनाम जिंदगी से माया नगरी मुंबई में पहचान बनाने और अभिनय के दम पर देखते ही देखते कामयाबी की बुलंदी पर पहुंच जाना….इन्हीं अनुभवों को शब्दों के रूप में समेटे हुए है अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी की आने वाली किताब।

कहानी , गैग्स ऑफ वासेपुर , द लंचबॉक्स , बदलापुर , बजरंगी भाईजान और मांझी जैसी फिल्मों में यादगार अभिनय करने वाले नवाजुद्दीन ने एन ऑर्डीनरी लाइफ: ए मेमॉयर नामक एक किताब लिखी है जिसमें संघर्ष , उम्मीद , अथक दृढ़ता और सपने देखने की उनकी इच्छा का जिक्र है।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के छोटे से शहर बुढाना से ताल्लुक रखने वाले नवाजुद्दीन ने थिएटर में अपना भाग्य आजमाने के लिए दिल्ली का रुख किया। कामयाबी आसान नहीं थी। उन्हें दिल्ली में वॉचमैन का काम भी करना पड़ा।

किताब के प्रकाशक पेंग्विन इंडिया ने कहा, थिएटर में मजबूत पकड़ रखने वाले नवाजुद्दीन ऐसी बहुमुखी प्रतिभा के धनी कलाकार हैं, कि उन्होंने जिस किरदार को निभाया, दर्शकों में हैरत में डाल दिया। यह संस्मरण उनके जीवन से जुड़ी खास बातों का संग्रह है।

बॉलीवुड स्टार नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने पत्रकार एवं लेखिका रितुपर्णा चटर्जी के साथ मिलकर ‘‘एन आर्डिनरी लाइफ : ए मेमॉयर’’ पुस्तक का लेखन किया है। अभिनेता ने इस किताब में अपने जीवन के अनछुए पहलुओं और शोहरत की गलियों तक पहुंचने के अपने सफर को बयां किया है। किताब अक्तूबर में बाजार में आएगी।