यूएन में भारत ने कहा पाकिस्तान तो ‘टेररिस्तान’ है

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र में पाक पीएम द्वारा भारत पर संघर्ष विराम उल्लंघन और आतंकवाद फैलाने के आरोप लगाए जाने के बाद अब भारत ने इसका करारा जवाब दिया है। पाक अब टेररिस्तान बन चुका है जो दुनियाभर में आतंक का निर्यात करता है।

यूएन में भारत की फर्स्ट सेक्रेटरी ईनम गंभीर ने सदन में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि पाकिस्तान असल में टेररिस्तान है, जिसने ओसामा बिन लादेन जैसे आतंकी को पनाह दी वो आतंक से पीड़ित होने का ढोंग कर रहा है। अपने छोटे से इतिहास में पाकिस्तान आतंकवाद का पर्याय बन चुका है।

कश्मीर को लेकर पाक पीएम के बायन पर भारत ने कहा कि पाकिस्तान को यह समझना ही होगा कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और रहेगा। चाहे पाकिस्तान कितना भी सीमापार से आतंक फैला ले लेकिन भारत की आतंरिक एकता को कम नहीं कर सकेगा।

भारत की फर्स्ट सेक्रेटरी ने कहा कि यूएन से घोषित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का सरगना हाफिज मोहम्मद सईद खुद को एक राजनीतिक पार्टी के नेता के तौर पर स्थापित कर रहा है।

ये वो देश है, जिसकी आतंकवाद के खिलाफ नीति ये है कि वो आतंकवादियों को अपने सैन्य इलाकों में सुरक्षित ठिकाने मुहैया कराता है या फिर उनकी सुरक्षा राजनीतिक भविष्य बनाकर करता है। इसे कोई भी न्यायोचित नहीं ठहरा सकता।

जहां तक भारत की बात है, पाकिस्तान को ये बात समझ लेना चाहिए कि जम्मू-कश्मीर भारत का हमेशा अभिन्न अंग था और रहेगा।यूनाइटेड नेशंस में पाकिस्तान कश्मीर पर तो बात करता है, लेकिन अपने ही घर में झांकना भूल जाता है।

पीओके में स्थानीय नागरिकों पर पाक सेना ने जुल्म ढाया। नया मामला पीओके की नीलम घाटी का है। यहां सेना ने नौकरी की तलाश में आए चार युवकों को बुरी तरह पीट दिया। सेना इन युवाओं को घाटी से उठाकर ले गई और पाकिस्तानी ठेकेदार के आदेश पर इन युवाओं को बुरी तरह मारा।