राहुल गांधी उठाया सवाल आरएसएस में हैं कितनी महिलाएं हैं

वड़ोदरा. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर आरोप लगाया कि वे महिलाओं को सम्मान नहीं देते और सवाल किया कि संघ की शाखाओं में कितनी महिलाएं नजर आईं.

इसके विपरीत कांग्रेस में हर स्तर पर महिलाएं काम करती हैं.गांधी ने गुजरात में अपने चुनाव अभियान के दूसरे दिन  विद्यार्थियों की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, भाजपा की सोच है कि जब तक महिलाएं शांत है, तब तक वे अच्छी हैं लेकिन जब वे बोलने लगती हैं तब वह (भाजपा) उनका मुंह बंद करने का प्रयास करती है.

राहुल ने व्यंग्यपूर्ण अंदाज में कहा, उनका संगठन आरएसएस है. आरएसएस में कितनी महिलाएं हैं… क्या आपने कभी किसी महिला को शाखा में निक्कर पहने देखा है? उन्होंने कहा, कांग्रेस में आप संगठन में हर स्तर पर महिलाएं देखेंगे. गुजरात में उनकी पार्टी की सरकार आती है तो वह महिलाओं को महत्व देगी.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पुत्र की कंपनी के कारोबार में भारी बढ़ोत्तरी से जुड़ी खबर के मामले में चुटकी लेते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि सरकार बेटी बचाओ से आगे बढ़ते हुए बेटा बचाओ में बदल गई है.

राहुल की यह टिप्पणी ऐसे समय में सामने आई है जब भाजपा अध्यक्ष के पुत्र जय अमित शाह के समर्थन में अनेक केंद्रीय मंत्री सामने आ गए हैं. राहुल गांधी ने ट्विटर पर कहा, बेटी बचाओ से, बेटा बचाओ के रूप में आश्चर्यजनक बदलाव.

राहुल ने शाह के पुत्र को शाह ‘जादा’ के रूप में संबोधित किया. उन्होंने पीयूष गोयल ने जय शाह के कारोबारी लेनदेन का बचाव किया शीर्षक से रिपोर्ट को भी अपने ट्वीट के साथ जोड़ा.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने  इस विषय पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से चुप्पी तोडऩे का आग्रह किया था. राहुल गांधी ने कहा था, मोदी जी… क्या आप मूकदर्शक है या पार्टनर है ? कृपया कुछ कहें.