अच्छा नहीं लगता

तेरा यूँ रूठ कर जाना अच्छा नहीं लगता
मेरा यूँ महफ़िल बिठाना अच्छा नहीं लगता

जहाँ भी हो चले आओ मै तन्हा ही तो रहता हु
बिना तेरे शाम का यूँ गुज़र जाना अच्छा नहीं लगता

-Hamarikalamsei