मात्र एक साल में बदल गयी अमित शाह के बेटे की किस्मत, 16,000 गुना मुनाफा

अमित शाह के बेटे जॉय शाह को ले कर thewire ने बड़ा खुलासा किया है. इसके अनुसार जॉय शाह की कंपनी टेम्पल इंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड की संपत्ति में अचानक बढ़ोत्तरी हुई है. 2 साल पहले जो कंपनी घाटे में चल रही थी वो अचानक से मुनाफे में आ गयी है जो संदेहास्पद है.

amit shahरिपोर्ट के अनुसार 2014 में 1700 रूपए के घाटे में चल रही कंपनी को 2015 में 50,000 रूपए का शुद्ध लाभ हुआ जबकि सरकार बनने के एक साल बाद ही यह मुनाफा 1600 गुना बढ़ कर 80.5 करोड़ रुपया हो गया.

जय शाह की कंपनी में 2014 के चुनावों के बाद से नाटकीय बढ़ोत्तरी देखने को मिली है. कंपनी के शुद्ध मुनाफे के अलावा कंपनी की प्रॉपर्टी में भी बढ़ोत्तरी हुई है.

2013-14 में, टेम्पल एंटरप्राइज़ के पास कोई निश्चित संपत्ति नहीं थी और इसमें कोई इन्वेंट्री या स्टॉक नहीं था। उसे 5,796 रूपए का आयकर रिफंड भी मिला है। वित्त वर्ष 2014-15 में, उसने 50,000 रुपये का राजस्व अर्जित किया। हालांकि, 2015-16 में, कंपनी का राजस्व 80.5 करोड़ रुपये से बढ़कर 16 लाख प्रतिशत हो गया।

पिछले साल 1 9 लाख रुपये से रिजर्व और अधिशेष 80.2 लाख रुपये हो गया। व्यापार के दाम 2.65 करोड़ रुपये थे, जो पिछले साल 5,618 रुपये था। कंपनी की संपत्ति केवल 2 लाख रुपये थी फर्म के पास कोई निश्चित संपत्ति नहीं थी, पहले साल लघु अवधि के ऋण और अग्रिम 4.14 करोड़ रुपये थे, जो साल पहले 10,000 रुपये था। कंपनी की फाइलिंग के मुताबिक पिछले साल शून्य से 9 करोड़ रुपये की सूची थी।

टेम्पल इंटरप्राइजेज की स्थापना 2004 में हुई थी जब जय शाह और जीतेन्द्र शाह इसके डायरेक्टर नियुक्त किये गए थे. इस कंपनी में अमित शाह की पत्नी सोनल शाह की भी हिस्सेदारी थी.

इस खबर का खुलासा रोहिणी सिंह ने किया है.जिसे सबसे पहले TheWire ने प्रकाशित किया है. मालूम हो कि रोहिणी सिंह ने ही DLF के साथ रोबर्ट वाड्रा के घोटालों की पोल खोली थी.