एक बड़ा फैसला जो एआर रहमान नहीं लिया वरना…

खबरों के अनुसार पिछले माह ऑस्कर अवार्ड विजेता ए आर रहमान दुबई में अपनी फिल्म ‘वन हार्ट’ के प्रीमियर पर इतने निराश हो गए थे कि उन्होंने हमेशा के लिए फिल्म इंडस्ट्री और संगीत की दुनिया छोड़ देने का निर्णय कर लिया था. हुआ यह कि रहमान अपने इस फिल्म को बनाने में तन मन धन से पिछले काफी समय से जुटे हुए थे.

उन्होंने इस फिल्म को बनाने से पहले, छः वर्षों तक फिल्म मेकिंग का प्रोसेस अच्छी तरह सीखने में भी वक्त लगाया था. रहमान और उनकी टीम, पिछले चार महीनों से इस फिल्म के साउंड मिक्सिंग तथा प्रोडक्शन में लगे रहे, उन्होंने यह सोचा कि थिएटर पर जब फिल्म लगेगी तो उनकी मेहनत रंग जरूर लाती दिखेगी.

जब दुबई के थिएटर में फिल्म का प्रीमियर देखा तो उसके खराब साउंड प्रदर्शन से सब दंग रह गए और हताश हो गए. रहमान ने बताया, “जब फिल्म चली तो उसका साउंड इतना खराब सुनाई दे रहा था कि मैं सोचने लगा कि मैंने यह क्या किया? इतना खराब काम मैंने कैसे किया?

उसी पल मैंने हताशा में यह निर्णय ले लिया कि अब मैं कोई फिल्म नहीं बनाऊंगा और ना ही कभी म्यूजिक दूंगा.लेकिन जब मैं उस प्रीमियर के अगले पड़ाव मलेशिया में गया तो वहां के थिएटर में मेरी फिल्म का साउंड बहुत खूबसूरत और उम्दा सुनाई पड़ा.

मैं हैरान रह गया. तब मुझे समझ में आया कि दुबई के उस पर्टिकुलर थिएटर का साउंड सिस्टम ही खराब था. यानी हम सब ने जो मेहनत की थी वह सौ प्रतिशत सफल रही.

क्योंकि मेरी जानकारी में कितने सारे बड़े, स्थापित संगीतकारों ने भारी लोन लेकर फिल्में बनाई और जब वह नहीं चली तो वह कहीं के नहीं रहे, उधार चुकाने चुकाते वे और उनका परिवार सड़कों पर आ गए.इस वजह से मैं अलर्ट हो चुका था. खैर, अब सब ठीक है, ऑल इज़ वेल, मेरी मेहनत सफल हुई.