गुजरात में दलबदल कराने की जांच कीजाए

Advertisement

कांग्रेस चुनाव आयोग से अपील

नई दिल्ली। कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी की केंद्र और गुजरात सरकार पर राज्यसभा चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए धन (राशि) और बल के माध्यम से विधायकों का दिल (पार्टी) बदलने का आरोप लगाते हुए चुनाव आयोग से उच्च और सशक्त समिति का गठन दे पार की जाँच करने की मांग की है। कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने आज यहां चुनाव आयोग से मुलाकात कर शिकायत की कि भाजपा गुजरात में हर हालत में राज्यसभा चुनाव जीतना चाहती है और इसके लिए कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों के विधायकों को बहु राशि देकर और डरा कर अपने पक्ष में करने की कोशिश कर रही है। इसके लिए प्रशासन भी दुरुपयोग किया जा रहा है। प्रतिनिधिमंडल ने इस संबंध में आयोग को एक ज्ञापन भी सौंपा है।

आयोग से मुलाकात के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पत्रकारों को बताया कि वहाँ विधायकों का अपहरण किया जा रहा है और अपहरण विधायकों के साथ ही उनके परिजनों को भी धमकाया जा रहा है। उन्होंने इसे लोकतंत्र की हत्या करार दिया और कहा कि भारतीय लोकतंत्र में पहली बार ऐसा देखने को मिल रहा है। उन्होंने इसे गंभीर मामला बताया और कहा कि पार्टी ने आयोग से स्वतंत्र और निष्पक्ष उच्च मूल्यांकन उच्च और सशक्त समिति बना कर करने की मांग की है। कांग्रेस नेता ने कहा कि विधायकों का अपहरण करने में राज्य सरकार भी भूमिका है और इसमें राज्य के सरकारी अधिकारी भी शामिल हैं। उन्होंने अपहरण में शामिल अधिकारी को निकालने और अन्य दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की भी आयोग से मांग की।

Advertisement
Advertisement