गूगल का डूडल,डिजाइन उर्दू स्टाइल वाली स्क्रिप्ट में,अब्दुल क़वी दसनवी के सम्मान  में …

उर्दू के प्रसिद्ध लेखक और साहित्यिक टिप्पणीकार अब्दुल क़वी दसनवी की 87वीं जयंती गूगल भी मना रहा है.सम्मान में दी गूगल के डूडल पर जगह,दसनवी का जन्म प्रमुख मुस्लिम विद्वान सैयद सुलैमान नदवी के घर हुआ.वह भोपाल के सैफिया पोस्ट ग्रैजुएट कॉलेज से 1990 में सेवानिवृत्त हुए.

उनकी कुछ मशहूर किताबे हैं  सात  तहरीरें , मोतला -ऐ- खुतूत  ग़ालिब  और  तलाश -ऐ -आज़ाद .उनकी  सबसे प्रसिद्ध  किताब ..हयात -ऐ -अबुल कलाम आज़ाद ,स्वतंत्रता सैनानी मौलाना अबुल कलम आज़ाद पर थी जो सन 2000 मे आई थी.

1930 में बिहार के दसना गांव में पैदा हुए अब्दुल क़वी ने भारत में उर्दू साहित्य के प्रोत्साहन के लिए बहुत ही अहम भूमिका निभाई हैं.

उनका प्रमुख काम मौलाना अबुल कलाम आजाद, गालिब और इकबाल पर था। अपने करियर में दसनवी ने उर्दू साहित्य में कई किताबें लिखीं.इसके अलावा उन्होंने कई कविताएं और फिक्शन भी लिखे। उनको अपने कामों के लिए कई अवॉर्ड मिले.

जावेद अख्तर और इकबाल मसूद समेत उनके कई शागिर्द आज मशहूर कवि एवं शिक्षाविद हैं.उनका देहांत 7 जुलाई, 2011 को हुआ.