डेरा प्रमुख पर फैसला : पंजाब और हरियाणा में 15 हजार से अधिक अर्धसैनिक बलों की तैनाती


नई दिल्ली। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख पर लगे यौन शोषण के आरोपों के मामले में पंचकुला अदालत शुक्रवार को फैसला सुनाने जा रही है और इस दौरान कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए पंजाब और हरियाणा में 15 हजार से ज्यादा अद्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है।  अर्धसैनिक बलों की 150 से ज्यादा कंपनियों को इन दोनों राज्यों में पुलिस बल की मदद करने के लिए तैनात किया गया है। किसी भी तरह कानून और व्यवस्था की स्थिति से निपटने के लिए पंजाब और हरियाणा पुलिस बल को हाई अलर्ट पर रखा गया है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा गुरमीत सिंह पर यौन शोषण का मामला दर्ज किया गया है जिसमें कल अदालत का फैसला आना है।

डेरा प्रमुख द्वारा दो ‘साध्वियों ‘ (महिला अनुयाई) के तथाकथित यौन शोषण से जुड़े गुमनाम पत्रों के सामने आने के बाद पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्देशों पर 2012 में यह मामला दर्ज किया गया था।मामले की जानकारी रखने वाले एक अन्य अधिकारी ने बताया है कि केंद्र सरकार ने दोनों राज्यों की सरकार को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए हर संभव मदद देने की बात कही है। डेरा प्रमुख के प्रशंसक पंचकुला, चंडीगढ़ और आस-पास के क्षेत्रों में एकत्रित हो रहे हैं।

पंचकुला, सिरसा, हिसार और कई दूसरे स्थानों पर सुरक्षा बलों द्वारा फ्लैग मार्च निकाला गया और कई अस्पतालों को सुरक्षात्मक उपायों के मद्देनजर हाई अलर्ट पर रखा गया है। अधिकारी ने बताया कि पुलिस बल सोशल मीडिया, वाट्सएप समूहों, फेसबुक और ट्वीटर पर कड़ी नजर रख रही है और लोगों से अफवाह नहीं फैलाने और अगर अफवाहों पर ध्यान नहीं देने को कहा गया है। पंचकुला की विशेष अदालत में पिछले कई साल से सिंह के खिलाफ यह मामला विचाराधीन है और कल इसपर फैसला आना है।