डेरा मुख्यालय: तलाशी अभियान में मिलीं कई चौंकाने वाली जानकारियां

Advertisement

सिरसा.हरियाणा के सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के विशाल मुख्यालय को खतरा मुक्त बनाने के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच विस्तृत तलाशी अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें सुरक्षा बल और विभिन्न सरकारी विभाग हिस्सा ले रहे हैं.डेरा मुख्यालय की ओर जाने वाली सड़कों पर कर्फ्यू अभी भी प्रभावी है. किसी भी व्यक्ति को बिना अनुमति के डेरा परिसर में जाने की अनुमति नहीं है.डेरा की अध्यक्ष विपश्यना इंसा ने कहा कि तलाशी अभियान जारी है और हमने हमेशा कानून का पालन किया है. हम सरकार के इस अभियान में पूर्ण सहयोग कर रहे हैं और सभी से शांति तथा स्थिरता बनाए रखने की अपील करते हैं.

अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को सुरक्षा बलों का बड़ा काफिला डेरा मुख्यालय के भीतर गया जिसमें पुलिस बसें, अर्द्धसैनिक बलों के वाहन, त्वरित प्रतिक्रिया दलों के वाहन, बम निष्क्रिय करने वाले दस्ते, गड़बड़ी रोकने वाले दलों के वाहन, पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों के जवानों को लेकर जाने वाले कई वाहन शामिल थे. इनमें जिला प्रशासन के अधिकारियों के दल भी शामिल थे. तलाशी अभियान की वीडियोग्राफी की जा रही है और इसकी निगरानी जिला एवं सत्र न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एकेएस पवार कर रहे हैं . पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने पवार को कोर्ट कमिश्नर नियुक्त किया है.इस पूरे अभियान के दौरान दमकल गाड़ियों के अलावा जमीन (मिट्टी) खोदने वाले भारी वाहनों और ट्रैक्टरों का भी प्रयोग किया जा रहा है.

Advertisement

हरियाणा पुलिस के महानिदेशक बी. एस. संधू ने कल चंडीगढ़ में कहा था, ‘‘हमने एक रणनीति बनायी है और हमें आशा है कि परिसर को खतरा मुक्त बनाने के लिए चलाया जा रहा तलाशी अभियान बिना किसी रूकावट के पूरा होगा. डेरा प्रबंधन ने भी जांच के दौरान स्थानीय प्रशासन और पुलिस के साथ सहयोग करने की इच्छा जतायी है। डेरा प्रबंधन ने कहा कि वह इस पूरे अभियान में सहयोग कर रहा है.

Advertisement