तमिल फिल्म मर्सल: मर्सल वर्सेस मोदी,तमिलियन्स वर्सेस मोदी

नयी दिल्ली/चेन्नई : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अभिनेता विजय की नयी तमिल फिल्म ‘मर्सल’ में कुछ संवाद हटाये जाने की मांग करने के लिए तमिलनाडु भाजपा पर हमला बोला. इस फिल्म में जीएसटी का कथित तौर पर उपहास उड़ाया गया है.

इससे पहले केंद्रीय मंत्री पी राधाकृष्णन ने मांग की कि उन संवादों को फिल्म से निकाला जाना चाहिए जो उनके अनुसार जीएसटी के बारे में असत्य हैं. भाजपा नीत राजग सरकार ने एक जुलाई से वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू किया है.

फिल्म के प्रोडक्शन हाउस का बयान आया है कि अगर जरूरत होगा तो वह फिल्म में उक्त अंश को हटा सकता है. दिलचस्प बात तो यह है कि पहले यह विवाद मर्सल वर्सेस मोदी था.

अब यह सोशल मीडिया पर तमिलियन्स वर्सेस मोदी हो चुका है. फिल्म मेरसल को बड़े तौर पर समर्थन मिल रहा है और भाजपा सरकार की कड़ी आलोचना हो रही है. और तो और, तमिलियन्स वर्सेस मोदी हैशटैग में तमिल लोगों के अलावा अन्य क्षेत्रों के लोग भी जमकर ट्वीट कर रहे हैं.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने अभिनेता विजय की नई तमिल फिल्म मर्सल में कुछ संवाद हटाए जाने की मांग करने के लिए तमिलनाडु भाजपा पर हमला बोला। इस फिल्म में जीएसटी का कथित तौर पर उपहास उड़ाया गया है.

भाजपा की तमिलनाडु इकाई की प्रमुख टी सुंदरराजन एवं राष्ट्रीय सचिव एच राजा सहित राज्य के भाजपा नेताओं ने हाल में रिलीज इस फिल्म में जीएसटी के उल्लेख पर कड़ी आपत्ति की है और दावा किया है कि इसके संवाद बेहद अनुचित हैं.

तमिल फिल्म अभिनेता कमल हसन ने ट्वीट कर कहा, मर्सल प्रमाणित है. इसका फिर से सेंसर मत करिए. आलोचना का जवाब तार्किक प्रतिक्रियाओं से दीजिए. आलोचकों को चुप मत कराइए. भारत जब बोलता है तो यह उज्ज्वल हो जाता है.
पूर्व केन्द्रीय मंत्री शशि थरूर ने कहा कि कांग्रेस अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के पक्ष में है.