Advertisement

दिल्ली-एनसीआर में विसिब्लिटी का स्तर जरूर सुधरा है.लेकिन प्रदूषण अब भी बरकरार हैं…

लगातार तीन दिनों से गैस चैंबर बनी हुई है दिल्ली.यह स्थिति दिल्ली में एंटी साइक्लोनिंग कंडिशन बनने की वजह से पैदा हुई है.फिलहाल अभी अगले 24 घंटे तक इससे राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है.

पीएम 10 और पीएम 2.5 का स्तर भी 500 से अधिक देखने को मिला. हवा की गति में कुछ समय के लिए थोड़ा सा इजाफा हुआ बृहस्पतिवार से दिल्ली-एनसीआर विसिब्लिटी का स्तर जरूर सुधरा है. लेकिन प्रदूषण अब भी बरकरार हैं.

Advertisement

सुबह से लेकर शाम तक विसिब्लिटी में बहुत अंतर देखने को मिला, लेकिन अधिकांश इलाकों में वायु प्रदूषण का इंडेक्स अभी भी खतरनाक ही हैं.केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और मौसम विज्ञानियों के अनुसार शुक्रवार रात से हवा की गति मे बढ़ोतरी होगी.

जिससे शनिवार को हवा प्रदूषण के स्तर में कुछ  सुधार देखने को मिल सकता हैं .दिल्ली का औसत पीएम 10 बृहस्पतिवार को 895 और पीएम 2.5 का स्तर 546 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर रहा.

Advertisement

वहीं दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (डीपीसीसी) के एयर लैब साइंटिस्ट डॉ. एम जार्ज के अनुसार दोपहर में प्रदूषण स्तर मामूली रूप से कम हुआ था. शाम से फिर स्मॉग बढ़ने लगा.दिल्ली में हवा की गति बढ़ने से प्रदूषण कम होगा.

 

Advertisement

 

 

 

Advertisement

 

Advertisement