नवाज़ शरीफ की पत्नी उपचुनाव जीतीं

पाकिस्तान की दूसरी महिला वज़ीरे आज़म होंगीं कुलसुम नवाज़ 

लौहार.एनए -120 लाहौर में पूर्व प्रधान मंत्री नवाज शरीफ के अपदस्थ होने के बाद बेगम नवाज़ कुलसुम ने चुनाव लड़ा. इस उपचुनाव में बेगम नवाज कुलसुम नवाज़ निर्वाचित घोषित कर दी गई हैं. इसी के साथ ये तय हो गया है की पाकिस्तान की दूसरी महिला वज़ीरे आज़म अब कुलसुम नवाज़ होंगीं. गैर सरकारी  परिणाम के अनुसार बेगम कुलसुम नवाज़ ने डीएनए 120 उपचुनाव में 59 हजार 413 वोट प्राप्त करके सफलता प्राप्त कर ली, जबकि पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ की डॉक्टर यासमीन राशिद 13 हजार 268 वोट लेकर दूसरे नंबर पर रहीं.

लाहौर के क्षेत्र एनए 120 में नवाज शरीफ की खाली सीट पर पत्नी कुलसुम नवाज़, तहरीक ए इंसाफ की यासमीन राशिद और पीपुल्स पार्टी के बीच मुकाबला था. परिणाम के बाद पीएमएल-एन के कार्यकर्ताओं को कुलसुम नवाज़ की बेटी मरयम ने सम्बोधित किया.मुस्लिम लीग हाउस में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कुलसुम समर्थक पुत्री मरियम नवाज ने कहा कि मुस्लिम लीग के सभी कार्यकर्ताओं को बधाई और सबसे पहले अल्लाह का शुक्र अदा करो कि अल्लाह ने आप के नेता नवाज शरीफ को सुरख़रू किया है.मरयम नवाज ने कहा, “आज आप ने साबित कर दिया कि आप माँ से प्यार करते हैं.

उन्होंने कहा कि ‘डीएनए 120 ने निर्वाचित प्रधानमंत्री के साथ होने वाले व्यवहार को दिल से ले लिया है और यह आपका नवाज शरीफ के लिए प्यार था कि आज उन सभी ताकतों की शिकस्त हुई जिन्होंने नवाज शरीफ पर इलज़ाम लगाए थे.अदालत चाहती थी अवाम नवाज शरीफ के खिलाफ वोट दे तो आज जनता ने न केवल अदालत के इस फैसले को अस्वीकार किया बल्कि विपक्ष को भी अस्वीकार कर दिया और जनता ने अपना फैसला सुना दिया.

डीएनए 120 उपचुनाव में मतदान का समय समाप्त हो गया तो मुस्लिम लीग (नवाज़) ने मतदान का समय बढ़ाने की मांग की लेकिन तहरीक ए इंसाफ ने विरोध किया।मुस्लिम लीग (नवाज़) के नेता साद रफीक का कहना था कि हम 3 घंटे से चुनाव आयोग से समय बढ़ाने का अनुरोध कर रहे हैं, लोगों को बड़ी संख्या में मतदान स्टेशनों के बाहर मौजूद हैं।
उनका कहना था कि हम बार बार गुज़ारिश कर रहे हैं, हमारी बात सुनी नहीं जा रही है.