नीतीश कुमार ने विश्वास मत जीता

पक्ष 131 और विरोध में 108 वोट पड़े

पटना। बिहार में बुधवार की शाम को शुरू हुए राजनीतिक घटनाओं के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विश्वास मत का सफलतापूर्वक सामना किया। एनडीए के पक्ष में 131 वोट पड़े जबकि विपक्ष को 108 वोट मिले। इस बीच तेजस्वी यादव विपक्ष का नेता चुना गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विश्वास मत जीतने के बाद विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर जोरदार हमला किया। उनके परिवार के खिलाफ साजिश की गई। अगर बॉस में दम था तो वह मुझे बर्खास्त कर दिया। सूत्रों के मुताबिक, विधानसभा में बहुमत साबित करने के बाद वह कैबिनेट की भी घोषणा कर सकते हैं। इसमें जदयू के 9 मंत्री और भाजपा के 8 मंत्री शामिल हो सकते हैं। जदयू और भाजपा गठबंधन के अनुसार, नीतीश को 131 विधायकों का समर्थन प्राप्त है। तेजस्वी यादव पर भ्रष्टाचार के आरोप में महागठबंधन के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार शाम को इस्तीफा दे दिया था। इसके कुछ घंटे बाद ही भाजपा ने समर्थन देने की घोषणा कर दी। रात में ही नीतीश कुमार भाजपा के नेताओं के साथ राजभवन चले गए और राज्यपाल से मुलाकात की। इसके बाद गुरुवार सुबह उन्होंने 6 वीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।