पापा की हर टिप्स मानते हैं टाइगर श्रॉफ

Advertisement

अपनी पहली दो फिल्में ‘हीरोपंती’ तथा ‘बागी’ में टाइगर श्रॉफ को जो जबरदस्त सफलता मिली थी वह उनकी अगली दो फिल्में, ‘ए फ्लाइंग जट्ट’ तथा ‘मुन्ना माइकल’ को नहीं मिल सकी. इस बात के कारण क्या टाइगर श्रॉफ पर कोई प्रेशर आ रहा है?

यह प्रश्न पूछने पर वे बोले, “अरे भई, अभी तो मैंने करियर की बस शुरुआत ही की है.दो फिल्में सुपरहिट हुई तो दो नरम चली. ठीक है, वैसे मैं इस बारे में ध्यान जरुर लगाता हूं कि कहां पर समस्या आई? क्या बात हो गई कि अच्छा रिस्पांस के बावजूद मेरी पिछली दो फिल्में, पहले वाली दो फिल्मों की तरह नहीं चली?

Advertisement

वैसे इन बातों का मुझ पर कोई कड़वा प्रभाव नहीं पड़ा है. सच पूछो तो टीवी पर 2016 की सबसे ज्यादा टीआरपी बटोरने वाली तीन चार फिल्मों में से मेरी यह फिल्में भी थी, फिर ना जाने क्यों बॉक्स ऑफिस पर यह फिल्में नहीं चली.

मेरे कितने सारे नन्हे फैन्स, अपने पेरेंट्स के साथ मुझसे मिलने आते हैं और कहते हैं कि मैं भी आपकी तरह फ्लाइंग सुपर हीरो बनना चाहता हूं. उनके पेरेंट्स मुझसे कहते हैं कि उनके बच्चे बार बार मेरी फ़िल्में देखना चाहते हैं. फिर क्यों नहीं चली वो फिल्में? खैर, मैं कभी भी बीते कल पर सोच सोच कर अपना वक्त बर्बाद नहीं करना चाहता.

यह मेरे पापा (सुप्रसिद्ध स्टार जैकी श्रॉफ) ने मुझे सिखाया था। उन्होंने कहा था कि “पीछे मुड़कर देखने में अपना समय बर्बाद ना करो मैं आगे की सोचना पसंद करता हूँ।

Advertisement