बिहार में दिवाली पर दबंगों ने महादलितों के 50 मकान जलाए

पटना. जब पूरा देश दिवाली की खुशियां मना रहा था तब कुछ दबंग बिहार के खगड़िया में दिवाली पर महादलितों के मकानों में आग लगा रहे थे.दबंगों ने पचास से ज्यादा घरों को आग के हवाले कर दिया.

इसके अलावा दबंगों ने दहशत फैलाने के लिए कई चक्र फायरिंग भी की. दिवाली के दिन खगड़िया के मोरकाही थाना के छमसीया गाँव के रहने वाले महादलित परिवारों के लोगों के घरों में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है.रात भर टोले में अफरातफरी की स्थिति रही। घटना का कारण वर्चस्व की लड़ाई बताई गयी।

घटना के बाद से ही पीड़ित परिवारों का हाल यह है कि वे अन्न के दाने दाने तक को महोताज हो गए हैं. सूत्रों के अनुसार जिला प्रशासन कुछ राहत समाग्री वितरित कर रहा है. घटना के बाद से यह परिवार काफी डरे सहमे हुए हैं.छमसिया दियारा में महादलितों ने बताया कि उन्हें मुन्ना यादव का खौफ है.

पूर्व में भी महादलित और मुन्ना यादव के बीच झड़प हो चुकी है।इधर एसपी मीनू कुमारी ने बताया कि अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छपेमारी की जा रही है.

इधर घटना की सूचना मिलते ही एसपी मीनू कुमारी ने सदर एसडीपीओ रामानंद सागर के नेतृत्व में बड़ी संख्या में पुलिस को घटना स्थल की ओर रवाना की। अपराधियों के धरपकड़ के लिए छपेमारी जारी है.

इस इलाके में जलकर और जमीन पर कब्जे और वर्चस्व को लेकर दो जातियों के बीच विवाद चल रहा था. इस बीच महादलितों को डराने और दहशत फैलाने के उदेश्य से इस घटना को अंजाम दिया गया है. एसपी खगड़िया मीनू कुमारी का कहना है कि जो लोग भी इस घटना को अंजाम दिए हैं उनपर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है.

पीड़ित कुसुमलाल सदा ने बताया कि अपराधियो ने पहले ही उनलोगों को धमकी दी थी कि वे लोग उनलोगों के घरों में आग लगाएंगे. सचमुच अपराधियो ने घटना को अंजाम दे दिया. आगजनी में महादलितों के घरों में रखे कपड़ा, बर्तन, अनाज, नगदी, जेबरात सहित अन्य सामान राख हो गए.