बढ़ते रेल हादसे: प्रभु ने इस्तीफा दिया,पीएम का इंकार

रेलवे बोर्ड के नए अध्यक्ष अश्विनी लोहानी

मित्तल के इस्तीफे के बाद आश्विन लोहानी होंगे नए अध्यक्ष

नई दिल्ली. पिछले चार दिनों में दो रेलवे दुर्घटनाओं के बाद रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने नैतिक ज़िम्मेदारी लेते हुए अपने इस्तीफे की पेशकश पीएम के सामने राखी है. लेकिन इसी बीच रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ए के मित्तल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। सरकार ने उनका इस्तीफा मंजूर करते हुए अश्विनी लोहानी को रेलवे बोर्ड का नया अध्यक्ष नियुक्त किया है।

आधिकारिक रिपोर्ट के मुताबिक मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने श्री लोहानी को रेलवे बोर्ड के नए अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया है। भारतीय रेलवे यांत्रिक इंजीनियरिंग सेवा के अधिकारी श्री लोहानी एयर इंडिया के
अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक का पद संभालने से पहले रेलवे में ही थे।

प्रभु के हटाकर नए मंत्री मंडल के फेरबदल में सुना है नितिन गडकरी को लाया जा रहा है. लेकिन वे खुद जहाँ हैं वहीँ रहना चाहते हैं. अगर गडकरी राज़ी न हुए तो रेल मंत्रालय नीतीश कुमार की पार्टी के किसी व्यक्ति को भी दिया जा सकता है.उल्लेखनीय हैकि पूरा घटनाक्रम तब तेज़ी से बदला जब रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर इस्तीफा देना चाहा लेकिन पीएम ने कहा थोड़ा इंतज़ार कीजिये. इसके बाद ही रेलवे बोर्ड के मौजूदा अध्यक्ष जो रेल मंत्री के सबसे करीबी थे ने अपना इस्तीफा दे दिया. और अब ये माना जा रहा हैकि प्रभु के भी गिनती के दिन घंटे बचे हैं.