भारत ने कंगारुओं को 26 रन से हराया, सीरीज में 1-0 की बढ़त

चेन्नई: बारिश से प्रभावित पहले वनडे मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को 26 रनों से हरा दिया. टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए टीम इंडिया ने शुरुआती लड़खड़ाहट के बाद निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट खोकर 281 रन बनाए. पहले तीन विकेट 11 रन पर आउट होने के बाद हार्दिक पंड्या ने 83, महेंद्र सिंह धोनी ने 79 और केदार जाधव ने 40 और भुवनेश्वर कुमार ने नाबाद 32 रनों का योगदान दिया.

भारतीय टीम की पारी खत्म होने के बाद बारिश शुरू हो गई जिसके कारण काफी देर तक खेल रुका रहा. ऑस्ट्रेलिया को पुनर्निर्धारित लक्ष्य के तहत 21 ओवर में 164 रन बनाने थे, लेकिन टीम शुरुआत से ही विकेट गंवाती रही. ग्लेन मैक्सवेल ने सर्वाधिक 39 और डेविड वॉर्नर ने 25 रन बनाए. पूरी टीम 21 ओवर में 9 विकेट पर 137 रन ही बना पाई. हार्दिक पंड्या ने दोहरा प्रदर्शन करते हुए दो विकेट भी झटके. युजवेंद्र चहल ने तीन और कुलदीप यादव ने दो विकेट लिए. इस जीत के साथ टीम इंडिया ने 1-0 की बढ़त बना ली है.हार्दिक पंड्या मैन ऑफ द मैच रहे.

पंड्या ने बनाया करियर बेस्ट स्कोर:मैच में हार्दिक पंड्या ने जबरदस्त बैटिंग करते हुए वनडे करियर की तीसरी फिफ्टी लगाई। वे 66 बॉल पर 83 रन बनाकर आउट हुए। जो उनका वनडे का बेस्ट स्कोर भी है.अपनी इनिंग के दौरान उन्होंने 5 चौके और 5 सिक्स भी लगाए. अपने 50 रन 48 बॉल पर पूरे किए थे.37वें ओवर में एडम जम्पा की बॉल पर उन्होंने 1 चौका लगाने के बाद लगातार तीन सिक्स लगाए. इस ओवर में कुल 24 रन बने थे।पंड्या जब बैटिंग करने आए थे तब 87 रन पर टीम इंडिया के पांच विकेट गिर गए थे और टीम बड़ी मुसीबत में थी।इसके बाद पंड्या ने धोनी के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 118 रन की पार्टनरशिप की.

धोनी ने पूरी की फिफ्टी की ‘सेन्चुरी’:इस मैच में धोनी ने शानदार बैटिंग करते हुए फिफ्टी लगाई. वे 88 बॉल पर 79 रन (4 चौके, दो सिक्स) बनाकर आउट हुए.उन्होंने अपने 50 रन 75 बॉल पर पूरे किए थे. ये उनके वनडे करियर की 66वीं फिफ्टी रही.मैच में फिफ्टी लगाते ही धोनी ने इंटरनेशनल करियर में 100 फिफ्टी पूरी कर ली. ये मुकाम उन्होंने करियर का 470वां इंटरनेशनल मैच खेलते हुए पाया।ऐसा करने वाले वे चौथे इंडियन और ओवरऑल 14वें क्रिकेटर हैं. धोनी से पहले सचिन (164), द्रविड़ (146) और गांगुली (107) भी इंटरनेशनल करियर में 100+ फिफ्टी लगा चुके हैं.इस मैच से पहले तक धोनी वनडे करियर में 65, टेस्ट करियर में 33 और टी-20 करियर में 1 फिफ्टी लगाकर कुल 99 फिफ्टी लगा चुके थे.