विवेक गोयनका पीटीआई के नए अध्यक्ष और  हिंदू के एन रवि बने उपाध्यक्ष

Advertisement

नयी दिल्ली. एक्सप्रेस समूह के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक विवेक गोयनका और दैनिक समाचार पत्र द हिन्दू के पूर्व एडिटर इन चीफ एन. रवि को  देश की सबसे बड़ी समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया का क्रमश: अध्यक्ष और उपाध्यक्ष चुना गया.इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुके और पेशे से प्रकाशक गोयनका भारत में व्यापक स्तर पर प्रकाशित होने वाले अखबार का संचालन करते हैं जिनमें द इंडियन एक्सप्रेस, फाइनेंशियल एक्सप्रेस, मराठी दैनिक लोकसत्ता, हिंदी दैनिक जनसत्ता और कई ऑनलाइन समाचार वेबसाइट शामिल हैं.

पीटीआई की संपादकीय टीम का नेतृत्व अब नए एडिटर इन चीफ विजय जोशी कर रहे है जिनका इस पेशे में तीन दशकों से भी ज्यादा का अनुभव है. सीईओ का पद वेंकी वेंकटेश के पास है, जो सेल्स, विपणन, कोरपोरेट मामलों और मीडिया में तीन दशकों से ज्यादा का अनुभव रखते हैं.गोयनका (60) ने रियाद मैथ्यू की जगह ली, जो मनोरमा प्रबंधन के वरिष्ठ सहायक संपादक और सदस्य हैं. 69 वर्षीय रवि ने उपाध्यक्ष के तौर पर गोयनका का स्थान लिया।कंपनी की आज यहां 69वीं सालाना आम बैठक के बाद बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक में यह चुनाव हुआ.

Advertisement

गोयनका विज्ञापन संघ के सदस्य के अलावा भारतीय समाचार पत्र सोसायटी के निदेशक भी हैं. वह ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन के काउंसिल सदस्य के तौर पर यूनाइटेड न्यूज ऑफ इंडिया के अध्यक्ष भी रह चुके है और भारतीय समाचार पत्र सोसायटी के सबसे युवा अध्यक्ष भी रहे हैं.गैर लाभकारी रामनाथ गोयनका फाउंडेशन के प्रमुख के तौर पर गोयनका ने पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए रामनाथ गोयनका अवार्ड की शुरुआत की.गोयनका वन्यजीव फोटोग्राफर और संरक्षण के उत्साही छात्र रहे हैं.

Advertisement

भारत और अमेरिका में शानदार करियर के साथ रवि जाने माने पूर्व पत्रकार हैं. वह कस्तूरी एंड संस लिमिटेड के निदेशक है जो द हिंदू अखबार का प्रकाशन करता है.रवि वर्ष 1972 में द हिंदू से जुड़े और वर्ष 1980 में डिप्टी एडिटर बनने तक उन्होंने संवाददाता, प्रमुख लेखक और वाशिंगटन संवाददाता के तौर पर काम किया. वह वर्ष 1991 से 2011 तक एडिटर रहे और अक्तूबर 2013 से जनवरी 2015 तक एडिटर इन चीफ रहे. 42 साल के पत्रकारिता के करियर में रवि ने कई अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन कवर किए और अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों की रिपोर्टिंग के लिए विभिन्न प्रधानमंत्रियों और राष्ट्रपतियों के साथ यात्राएं की.

Advertisement
youtube shorts kya hai

 

 

Advertisement