वैज्ञानिक शिक्षाविद प्रोफेसर यशपाल का निधन

Advertisement

दिल्ली. शिक्षाविद और वैज्ञानिक प्रोफेसर यशपाल का मंगलवार को 90 वर्ष की उम्र में निधन हो गया।उन्हें 1976 में पद्मभूषण सम्मान मिला था और 2013 में पद्मविभूषण मिला था. प्रो. यशपाल ने अपना करियर टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ फंडामेंटल रिसर्च से शुरू किया था.यशपाल अनेक महत्वपूर्ण पदों पर आसीन रहे हैं, जिन में योजना आयोग में मुख्य सलाहकार, विज्ञान और टैक्नालॉजी विभाग में सचिव और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग में अध्यक्ष शामिल हैं.1973 में सरकार ने उन्हें स्पेस एप्लीकेशन सेंटर का पहला डॉयरेक्टर नियुक्त किया गया. 1983-84 में वे प्लानिंग कमीशन के चीफ कंसल्टेंट भी रहे. 1986 से 1991 तक यूजीसी के चेयरमैन रहे थे. 1993 में बच्चों की शिक्षा में ओबरबर्डन के मुद्दे पर भारत सरकार ने यशपाल की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई। 2007 से 2012 तक जेएनयू के चांसलर रहे थे. यशपाल दूरदर्शन पर टर्निंग पाइंट नाम के एक साइंटिफिक प्रोग्राम को भी होस्ट करते थे.

 

Advertisement