सीतारमण ने राहुल गाँधी के जीजा वाड्रा पर साधा निशाना

Advertisement

दिल्ली.कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा के हथियार डीलर संजय भंडारी से कथित तौर पर लिंक पर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर राहुल गांधी चुप क्यों हैं. कांग्रेस लीडरशीप भी इसका कोई जवाब नहीं दे रही है. इससे यह सिद्ध होता है कि वे आरोप को स्वीकार कर रहे हैं.

बता दें कि यह आरोप लगाया जा रहा है कि राबर्ट वाड्रा के हथियार डीलर संजय भंडारी से लिंक हैं. एक टीवी चैनल ने खुलासा किया है कि उसे एक ईमेल से जानकारी से मिली है कि भंडारी के ट्रैवल एजेंट ने साल 2012 में वाड्रा के लिए एअर टिकट बुक कराए थे.

Advertisement

चैनल ने दावा किया है कि उसके पास अगस्त 2012 में खरीद के दो एअर टिकट की कॉपी भी मिली है.इससे पहले आरोप लगाया जा रहा था कि लंदन स्थित वाड्रा के फ्लैट 12, एलर्टन हाउस की का संजय भंडारी ने साल 2016 में नवीनीकरण कराया था.

Advertisement

हालांकि, वाड्रा ने इस तरह के आरोपों की सीधे-सीधे खारिज कर दिया था. उन्होंने कहा था कि भंडारी के साथ उनके किसी भी तरह के संबंध नहीं हैं.

कौन हैं संजय भंडारी

Advertisement
Pulse Oximeter in Hindi corona virus

होम्योपैथ के मशहूर डॉक्टर राजेंद्र भंडारी के बेटे संजय भंडारी का नाम पहली बार मई में तब सुर्खियों में आया, जब यह अटकलें तेज़ थीं कि उन्होंने हाल फिलहाल में रक्षा खरीद की बड़ी डील में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

Advertisement

अगर उनके टेलीफोन कॉल रिकॉडर्स पर यक़ीन किया जाए तो संजय कोई छोटे-मोटे हथियार कारोबारी नहीं हैं. उनके रिश्ते पार्टी लाइन से हटकर भारत के सबसे ताकतवर राजनीतिक परिवार के राबर्ट वाड्रा से लेकर नागरिक उडड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू तक से हैं. बड़े पत्रकारों, बड़ी रक्षा कंपनियों के प्रतिनिधियों से भी उनके नज़दीकी रिश्ते रहे हैं.

फ्रांस की एक वेबसाइट के मुताबिक भंडारी ने 1990 के दशक के आखिर में हथियारों की ख़रीद-फरोख़्त के बाज़ार में कदम रखा था.आर्म्स खरीद की अंधेरी दुनिया में कदम रखने से पहले 1994 के एक जालसाजी मामले में भी उनका नाम आया था.

Advertisement