कोटा मुद्दे पर भाजपा या कांग्रेस के साथ वार्ता के लिए तैयार: हार्दिक पटेल

अहमदाबाद: पाटीदार कोटा आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने आज कहा कि समुदाय के सदस्य किसी भी पार्टी के साथ वार्ता करने के लिए तैयार हैं| चाहे वह भाजपा या कांग्रेस – आरक्षण के मुद्दे का उचित समाधान निकलना चाहिए। हार्दिक ने एक बयान में कहा, आने वाले दिनों में हम किसी भी पार्टी के साथ चर्चा करने के लिए तैयार हैं| यह भाजपा या कांग्रेस हो कोई भी हो सकती है। हम समुदाय के हित में उचित निर्णय लेंगे।

पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पीएएएस) के कुछ सदस्यों ने एक हफ्ते बाद गुजरात के कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी को उनके आवास पर मुलाकात की| उन्होंने पीएएएस की प्रमुख मांगों के बारे में कांग्रेस पार्टी का रुख स्पष्ट करने के लिए कहा। सोलंकी से मुलाकात करने वालों में हार्दिक के निकट सहयोगियों दिनेश बांभनीया, वरुण पटेल और मनोज पनारा शामिल थे। सोलंकी के साथ कल की बैठक के बारे में हार्दिक ने कहा कि पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के सदस्यों ने कांग्रेस अध्यक्ष से चार प्रमुख मांगों के बारे में स्पष्टता मांगी थी|

कोटा मुद्दे पर भाजपा या कांग्रेस के साथ वार्ता के लिए तैयार: हार्दिक पटेल

हार्दिक पटेल ने पीएएएस की माँगो को बताया

हार्दिक पटेल ने बताया कि पाटीदार अनामत आंदोलन समिति कि कुछ मांगे है जो हम किसी भी सरकार से चाहते है| यह मांग निम्न है:

– ओबीसी कोटा के तहत पटेल
– पाटीदार आयोग का गठन,
– कम से कम 10 पटेल युवाओं के परिवार को मुआवजे, जिनकी 2015 में कोटा हिंसा के दौरान मृत्यु हो गई थी
– आंदोलनकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर वापस लेना

हार्दिक ने कहा, हमारे सदस्यों ने सोलंकी के साथ एक बैठक आयोजित की| जिसमें पता चला कि उनकी पार्टी हमें क्या पेशकश कर सकती है, अगर कांग्रेस विधानसभा चुनावों के बाद सत्ता में आती है| हमने उससे पूछा कि क्या उनकी पार्टी सत्ता में आने के बाद हमें आरक्षण दे पाएगी। हमने उनसे भी पूछा कि क्या कांग्रेस सरकार पाटीदार आयोग का गठन करेगी| पीड़ितों के परिवारों को मुआवजा देगी और हमारे खिलाफ मामले वापस ले लेंगे। बैठक के दौरान, सोलंकी ने हमें आश्वासन दिया कि वह इस मामले को पार्टी के उच्च कमांड के सामने उठाएंगे।