Advertisement

अचित् और अंचित में क्या अंतर है – समोच्चरित भिन्नार्थक शब्द युग्म

अचित् का अर्थ – जड़, चेतन रहित

अंचित का अर्थ – गूंथा हुआ, पूजित

अचित् का वाक्य प्रयोग-

चित,अचित् सभी में ईश्वर व्याप्त है।

Advertisement

अंचित का वाक्य प्रयोग-

एक एक फूल को अंचित कर राम ने सुंदर माला तैयार की।

achit ka arth – jad, chetan rahit

anchit ka arth – goontha hua, poojit

अचित् और अंचित शब्द युग्म के बारे में विभिन्न परीक्षाओं में कई प्रकार से प्रश्न पूछे जाते हैं। जैसे –

अचित् का अर्थ, अंचित का अर्थ, अचित् और अंचित में अंतर बताइये, अचित् का वाक्य प्रयोग, अंचित का वाक्य प्रयोग, अचित् और अंचित श्रुतिसम भिन्नार्थक शब्द युग्म में अंतर स्पष्ट कीजिये, आदि।

Advertisement

समोच्चरित भिन्नार्थक शब्द युग्म की विस्तार से जानकारी के लिए निम्न पोस्ट पढ़ें :-

500 श्रुतिसम भिन्नार्थक शब्द युग्म

10 Important शब्द युग्म जो परीक्षा में पूछे जा सकते हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here