टेक्सस.अमेरिका के साउथ टेक्सस के एक फर्स्ट बैप्टिस्ट चर्च में लोग जब प्रार्थना कर रहे थे तभी भारी गोलाबारी की गई, जिसमें 26 लोगों की मौत हो गई. कई लोग जख्मी हैं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प जापान के दौरे पर हैं उन्होंने ट्वीट कर घटना की कड़ी निंदा की है.

26 वर्षीय हमलावर को पुलिस ने मार दिया है. हमलावर का नाम केविन पैट्रिक केली है. पैट्रिक को 2014 में अमेरिकी एयरफोर्स से निकाल दिया गया था। एफबीआई इस घटना में अन्य अपराधियों के शामिल होने की जांच कर रही है.
स्थानीय मिडिया के अनुसार 20 से अधिक घायलों को लाइफ सपोर्ट हेलीकॉप्टर से अस्पताल लेजाया जा रहा है.

साथ बैप्टिस्ट चर्च के पूरे इलाक़े में भारी पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है. टेक्सस के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने अपने ट्वीट में घटना की निंदा करते हुए इसे नफरत फ़ैलाने वाला बताया है.मॉर्निंग न्यूज वेबसाइट की खबर के अनुसार घायलों में एक दो साल का एक बच्चा भी है।

बैप्टिस्ट चर्च साउथ टेक्सस के सदरलैंड स्प्रिंग के विलसन काउंटी में स्थित है. खबरों में बताया गया है कि स्थानीय समय के अनुसार सुबह साढ़े 11 बजे लोग चर्च में रविवार की प्रार्थना कर रहे थे. इस दौरान चर्च के मैं गेट से एक बन्दूक धारी फायरिंग करते हुए दाखिल हुआ.

हमला इतना ज़ोरदार था कि लोग संभल भी नहीं पाए.हालांकि कुछ लोग बेंचों के नीचे जान बचने के लिए छिप गए लेकिन वे भी गोलीबारी में घायल हुए हैं.

उल्लेखनीय है कि पिछले एक महीने के अंदर अमेरिका में यह गोलीबारी की तीसरी घटना है। इससे पहले लॉस वेगास और मैनहटट्न में भी गोलीबारी की घटनाएं हो चुकी हैं.