लगता है कि फिल्म अभिनेता आमिर खान के बुरे दिन अभी ख़त्म नहीं हुए हैं . पिछले दिनों असहिस्णुता के मुद्दे पर विवादास्पद बयान देकर फंसे आमिर खान “अतुल्य भारत” अभियान के ब्रांड एम्बेसडर पद से हटा दिए गए थे. हालंकि आमिर खान ने इस बार संतुलित बयान देकर कोशिश की ताकि उनका नाम बिल वजह विवादों में ना घसीटा जाए . किन्तु इस बार जो बवाल उठा है वह आमिर खान के कारण नहीं बल्कि बीजेपी नेता सुब्रमन्यन स्वामी के आमिर खान के बारे में दिए गए बयान से मचा है .

Amir Khan funded by ISI for PK promotion subramanian swanyसुब्रमन्यन स्वामी ने कहा है कि आमिर खान ने अपनी फिल्म पीके के प्रमोशन के लिए पाकिस्तान ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई का सहारा लिया . जाहिर है, ऐसे बयान के बात राजनीतिक पारा तो गरमाना ही था.

यह भी पढ़िए – आमिर खान हिन्दुस्तान छोड़ कर जाएंगे कहाँ?

आमिर खान की मुश्किल यह है कि  असहिस्णुता वाले बयान पर माफ़ी मांगने के बाद भी संघ परिवार ने उनका पीछा नहीं छोड़ा था और उन्हें देशद्रोही तक करार दे दिया गया था .

यह भी पढ़िए – मनोज तिवारी ने आमिर खान को कहा देशद्रोही, बवाल मचने पर दी सफाई

अब सुब्रमन्यन स्वामी उनके पीछे पड़ गए हैं और स्वामी जिसके पीछे पड़ जाते हैं उसे आसानी से नहीं छोड़ते.  इसलिए आमिर खान के सितारे लगता है कि आगे आने वाले दिनों में भी गर्दिश में ही रहने वाले हैं .

हिंदी वार्ता से जुडें फेसबुक पर-अभी लाइक करें

 
यह भी पढ़िए  अतुल्य भारत अभियान: सरकार ने आमिर खान को नहीं हटाया-महेश शर्मा