अमरोहा में मस्जिद में नमाज़ पढ़ने से रोकने को लेकर हुआ तनाव, पीएसी तैनात

अमरोहा: उत्तर प्रदेश के  अमरोहा जनपद में सांप्रदायिक हिंसा होने के आसार बन रहे है| उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की मुश्किलें कम होती नज़र नहीं आ रही है| अभी सहारनपुर जिले में जातीय हिंसा की आग ठंठी भी नहीं हुई है| कि अब अमरोहा में सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने के आसार बढ़ रहे है|

अमरोहा के सकतपुर गांव का मामला

अमरोहा के सैदनगली थाने के सकतपुर गाँव में मुस्लिमो को मस्जिद में नमाज़ पढ़ने से रोका जा रहा है| जिससे वहां के मुस्लिमो ने गाँव छोड़ने की चेतावनी दे डाली है| यहाँ एक मस्जिद में नमाज़ पढ़ने से रोकने के विरोध में मुस्लिम समाज के लोग पलायन करने की सोच रहे है| इस पुरे विवाद के पीछे किसान यूनियन के एक नेता का नाम आ रहा है|

अमरोहा में मस्जिद में नवाज पढ़ने से रोकने को लेकर हुआ तनाव

सकतपुर गाँव के भारतीय किसान संघ के संगठन मंत्री सुखरामपाल राणा का नाम इस विवाद के पीछे आ रहा है| उसने गाँव की मस्जिद के विरोध में एक बैठक बुलाई थी| जिसमे बताया जा रहा है कि उसने मुस्लिम समाज के विरोध में नारेबाजी भी की थी| वहीँ गाँव के मुस्लिम समाज के लोग विवाद को लेकर प्रदर्शन कर रहे है| उनका कहना है कि उन्हें मस्जिद में नमाज़ नहीं पढ़ने दी जा रही है| एक आदमी ने बताया – हमें मस्जिद में नमाज़ नहीं पढ़ने दी| हमें वहां से बाहर निकाल दिया है| वहां पर अब पुलिस और पीएसी तैनात है| पुलिसवाले सरकार का साथ दे रहे है| हमारी मज़बूरी है कि हम यहाँ से पलायन कर रहे है| यहाँ हमें लोग जीने नहीं दे रहे है|

विवाद को लेकर पुलिस अधिकारी का बयान

एसएसपी ब्रजेश सिंह ने मीडिया को बताया 25 लोगो के खिलाफ मामला दर्ज कर दिया गया है| मौके पर पुलिस के साथ पीएसी कि टुकड़ी लगा दी गई है| हर तरह के हालत पर हमारी नज़र बानी हुई है| सुखरामपाल राणा ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को ख़ारिज किया है| उन्होंने खुद देर रात 3 मुस्लिम परिवारों के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज करवाई है|