बाबा रामदेव के गौमूत्र पतंजलि प्रोडक्ट्स के खिलाफ तौहीद जमात का फतवा, कहा मुस्लिमों के लिए इनका इस्तेमाल हराम

बाबा रामदेव के पतंजलि के उन प्रोडक्ट्स के खिलाफ तमिलनाडु की तौहीद जमात (TNJ ) ने फतवा जारी कर दिया है जिनमें गौमूत्र का इस्तेमाल किया जाता है। गौर तलब है कि तौहीद जमात तमिलनाडु का एक मुस्लिम संगठन है। तौहीद जमात के फतवे में बताया गया है कि गौमूत्र से बने होने के कारण इन पतंजलि प्रोडक्ट्स का इस्लाम में इस्तेमाल ‘हराम’ है और एक सच्चे मुसलमान को इन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

gaumutra products patanjali baba ramdevदरअसल यह चौंकाने वाली खबर आई है इंग्लिश न्यूज़ पेपर ‘फाइनैंशियल एक्सप्रेस’ (Financial Express) के हवाले से। इस अखबार में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार , तमिलनाडु के तौहीद जमात (टीएनटीजे) का कहना है कि इन प्रोडक्ट्स में गौमूत्र एक ‘मुख्य इंग्रैडियेंट’ (Main ingredient) है , जिसे इसके सौंदर्य प्रसाधनों, दवाइयों और पतंजलि के खाने पीने के उत्पादों के निर्माण में इस्तेमाल किया जाता है। इन सभी उत्पादों को खुले बाजार के साथ ऑनलाइन भी बेचा जा रहा है।

इस अंग्रेजी दैनिक के अनुसार टीएनटीजे ने एक प्रेस रिलीज में कहा, ”मुस्लिमों के विश्वास के मुताबिक, गौमूत्र हराम है जिसका इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। इसलिए टीएनटीजे फतवा जारी करता है कि पतंजलि के उत्पाद हराम हैं।” तौहीद जमात के सूत्रों के अनुसार फतवा यह सुनिश्चित करने के लिए जारी किया गया कि इन उत्पादों का मुस्लिम इस्तेमाल ना करें क्योंकि दैनिक जीवन में इस्तेमाल होने वाली इन चीजों को बनाए जाने में इस्तेमाल होने वाली चीजों के बारे में मुस्लिम समाज में जागरुकता कम है।