दोस्तों बाल दिवस हरेक साल 14 नवम्बर को भारत भर में मनाया जाता है. इस दिन को बच्चों के अधिकारों तथा उनके विषय में जागरूकता फैलाया जाता है.

बच्चे स्चूलों में तरह तरह की प्रतियोगिताओं में भाग लेते हैं. जिनमें से भाषण देना भी एक है. बाल दिवस के मौके पर इस विषय पर संक्षेप में भाषण देना एक महत्वपूर्ण कला है.

हमने हिंदीवार्ता पर एक संक्षिप्त भाषण प्रस्तुत किया है जिसे आप बाल दिवस के मौके पर प्रयोग कर सकते हैं.

बाल दिवस पर भाषण-Children’s day Speech in hindi

bal diwas speech in hindi

माननीय प्रधानाध्यापक महोदय, अध्यापकगण और मेरे प्रिय सहपाठियों, आप सभी को मेरी तरफ से बाल दिवस की शुभकामनाएं.

यह हमारे लिए बड़े ख़ुशी की बात है कि आज हम सब बाल दिवस के मौके पर एकत्र हुए हैं. इस शुभ मौके पर मैं आप सभी के समक्ष बाल दिवस के बारे में अपने विचार प्रस्तुत करना चाहता हूँ.

एक बच्चा न सिर्फ अपने परिवार का भविष्य बनाता है बल्कि वो पूरे समाज तथा देश का भविष्य होता है. बच्चे हम सभी के जीवन को सरस तथा खुशहाल बनाते हैं.

बच्चों का साफदिल तथा उनकी सच्चाई हमें काफी कुछ सिखाती हैं.

यूँ तो बाल दिवस हर देश में अलग अलग तारीखों को मनाया जाता है परन्तु भारत में यह 14 नवम्बर को हमारे प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु के जन्म दिवस पर मनाया जाता है.

नेहरु बच्चों के साथ काफी समय बिताते थे जिसकी वजह से वे बच्चों के प्यारे थे जिन्हें बच्चे प्यार से चाचा नेहरु भी बुलाते थे.

बच्चे हमारे आने वाली पीढ़ी का निर्माण करते हैं इसलिए हमारी यह जिम्मेदारी बनती है कि हम उनके रहन सहन, उनके संस्कार तथा उनकी शिक्षा पर पूरा ध्यान दें.

इन्हें स्वस्थ, शिक्षित तथा जिम्मेदार नागरिक बनाने की जिम्मेदारी हमारी है.

तो आइये बाल दिवस के मौके पर हम यह प्रण लें कि हम सब मिल जुल कर बच्चों के कुछ महत्वपूर्ण अधिकारों की रक्षा करेंगे.

  • हरेक बच्चे को सही देखभाल मिले
  • हरेक बच्चे को पोषक खाना, साफ़ सुथरे कपडे तथा सुरक्षा मिले
  • हरेक बच्चे को बिना रोक टोक से शिक्षा का अधिकार मिले
  • बाल श्रम पाप है, बच्चों का स्थान मजदूरी नहीं बल्कि स्कूल है.

आज जब सरकारें भी इस दिशा में कई योजनायें ले कर आ रही हैं. इसमें हमारी भी जिम्मेदारी बनती है कि हम मिलजुल कर सभी बच्चों का भविष्य उज्जवल करने के लिए  निरंतर प्रयास करते रहें.

जरूर पढ़ें-