Advertisement

Bhagvan ki krupa chahiye to 6 baton ka khayal rakhen?

देवी देवताओं की पूजा में आरती सबसे महत्वपूर्ण कर्म है। आरती के साथ ही पूजा अर्चना पूर्ण होती है। पूजा में आरती के महत्व को देखते हुए दीपक तैयार करते समय कई सावधानियां रखनी अनिवार्य है। विधि विधान से तैयार किए गए दीपक से देवी देवताओं की कृपा जल्दी ही प्राप्त होती है।
ऽ देवताओं को घी का दीपक अपनी बायीं ओर तथा तेल का दीपक दायीं ओर लगाना चाहिए।
ऽ देवी देवताओं को लगाया गया दीपक पूजन कार्य के बीच बुझना नहीं चाहिए। इस बात का विशेष ध्यान रखें।
ऽ दीपक हमेशा भगवान के सामने ही लगाएं।
ऽ घी के दीपक के लिए सफेद रूई की बत्ती लगाएं।
ऽ तेल के दीपक के लिए लाल बत्ती का उपयोग किया जाना चाहिए।
ऽ दीपक कहीं से खंडित या टूटा नहीं होना चाहिए।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here