Advertisement

बुआ जी को पत्र लिखकर कोरोना महामारी से बचने के उपाय लिखें for class 6,7,8,9,10,11,12

Bua ji ko patra likhkar corona mahamari se bachne ke upay likhen विषय पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों के लिए यहाँ पर पत्र लेखन के उदाहरण दिये गए हैं। पत्र लेखन के इन उदाहरणों के आधार पर आप विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पत्र लेखन कर सकते हैं।

Advertisement

बुआ जी को पत्र लिखकर कोरोना महामारी से बचने के उपाय लिखें । (Class 6-8)

कौड़िया गंज
अलीगढ़,

दिनांक – 20-6-022

Advertisement

पूजनीय बुआ जी
नमस्ते,

मैं यहाँ कुशल से हूँ और आपकी कुशलता की प्रार्थना करता हूँ। मैं आशा करता हूँ कि आपका स्वास्थ्य अच्छा होगा। इन दिनों देश में कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है। ऐसी परिस्थिति में हमे इससे बचने का पूरा पूरा प्रयास करना चाहिए। कोरोना से बचने के लिए सबसे पहले हाथों की सफाई करते रहना चाहिए।

Advertisement

कोरोना एक ऐसी बीमारी है जिसमे भीड़ भाड़ वाले इलाके में जाने से यह ज्यादा संक्रामक हो जाता है इसलिए आपको बाहर निकलने से बचना चाहिए। वैसे तो हमें यह पता है कि पूरी सावधानी बरत रही होंगी लेकिन कभी कभी दूसरों के देख रेख के चक्कर में हम अपना ख्याल नहीं रख पाते इसलिए आपको ध्यान दिलाने के लिए मैंने यह पत्र लिखा है।
आप अपना ख्याल रखना । सभी बड़ों को प्रणाम एवं छोटों को प्यार
शेष अगले पत्र में।

आपका स्नेहिल भतीजा
यश

बुआ जी को पत्र लिखकर कोरोना महामारी से बचने के उपाय लिखें ।(Class 9-10)

नगला मसानी
रामघाट रोड
अलीगढ़,

Advertisement

दिनांक – 20-6-22

आदरणीय बुआ जी
सादर प्रणाम,

आशा करता हूँ कि आप और आपका परिवार देश में फैले महामारी की चपेट से बचा होगा। कोरोना की रफ्तार बहुत तेजी से फैल रहा है। ऐसे में आपको अपना और अपने परिवार को सुरक्षित रखने की पूरी जिम्मेदारी है। कोरोना की चपेट में यदि कोई व्यक्ति आता है तो उसके संपर्क में आने वाले सभी इससे संक्रमित हो जाते है। कोरोना से बचने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि हम लोगों के संपर्क में आने से बचे इसके लिए यह जरूरी है कि हम कम से कम बाहर निकले। जरूरत के सामानों की एक सूची बनाकर ज्यादा मात्रा में खरीद लिया जाए। आप को पत्र लिख कर कोरोना से बचने का उपाय इसलिए बताया जा रहा है क्योंकि आप पर ही पूरे परिवार की जिम्मेदारी है।

आपको स्वस्थ रहना बहुत आवश्यक है। यदि विशेष परिस्थितियों में बाहर जाना भी पड़े तो हाथ की सफाई पर ध्यान देना चाहिए । साथ में सेनेटाइजर रखना चाहिए तथा घर में आने जाने वालों को बिना सेनेटाइजर के प्रवेश नही कराना चाहिए। यदि हम सभी इसकी मुख्य मुख्य बातों पर ध्यान दें तो हम इससे अवश्य बचे रहेंगे ।

वैसे तो आप खुद ही समझदार है और आप अपने परिवार को सुरक्षित रखने का पूरा उपाय कर रही होंगी। घर में सभी बड़ों और छोटों को मेरा उचित अभिवादन कहिएगा। हालत सही हुए तो मैं अवश्य आपसे मिलने आऊँगा।

आपका अपना
अपूर्व

बुआ जी को पत्र लिखकर कोरोना महामारी से बचने के उपाय लिखें ।(Class 11-12)

Advertisement

नगला मसानी
रामघाट रोड
अलीगढ़,

दिनांक – 20-6-22

आदरणीय बुआ जी
सादर चरण स्पर्श,

Advertisement

आपका बहुत दिनों से कोई पत्र नहीं मिला इसलिए आपकी चिंता हो रही थी। हम सभी यहाँ स्वस्थ और सुरक्षित है। पिताजी को आपकी और आपके परिवार की बहुत चिंता लगी रहती है क्योंकि आपके शहर में कोरोना सबसे ज्यादा फैल रहा है। प्रशासन की लापरवाही से यह और तेजी से फैला। ऐसे में सभी को अपनी सुरक्षा स्वयं करनी होंगी। सरकार द्वारा जारी किए गए कोरोना के महत्वपूर्ण उपायों को अपनाकर ही हम इस संक्रामक बीमारी से बच सकते है।

कोरोना से बकने के लिए हमे हमेशा अपने हाथों को साफ पानी से धोना चाहिए। सेनेटाइजर का प्रयोग जरूरी है। भर निकलना कम होना चाहिए और किसी कारणवश यदि बाहर निकलना भी पड़ा तो भीड़ भाड़ वाले इलाकों से बचना चाहिए। सबसे अहम है कि यदि सरकार द्वारा टीकाकरण शुरू किया जा रहा है तो सर्वप्रथम टीकाकरण करवाया जाए। बिना इन उपायों को अपनाए हम इस महामारी से नहीं बच सकते इसलिए आप भी ध्यान पूर्वक सभी उपायों पर अमल करें जिससे आपका परिवार सुरक्षित रहे।
फूफाजी को मेरा सादर चरण स्पर्श बोलिएगा।

आपका अपना
भूपेश

Patra lekhan in Hindi Class 6
Patra lekhan in Hindi Class 7
Patra lekhan in Hindi Class 8
Patra lekhan in Hindi Class 9
Patra lekhan in Hindi Class 10
Patra lekhan in Hindi Class 11
Patra lekhan in Hindi Class 12

पत्र लेखन के विषय (patra lekhan topics in Hindi), पत्र लेखन प्रारूप Patra Lekhan Formats, औपचारिक पत्र Aupcharik Patra, अनौपचारिक पत्र  Anaupcharik Patra आदि के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

पत्र लेखन PATRA LEKHAN | LETTER WRITING IN HINDI for FULL MARKS

औपचारिक एवं अनौपचारिक पत्र लेखन के 100 से अधिक उदाहरण 

आशा है कि बुआ जी को पत्र लिखकर कोरोना महामारी से बचने के उपाय लिखें विषय पर प्रस्तुत पत्र लेखन के उदाहरण आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगे। आप इन पत्रों में थोड़ी बहुत फेर-बदल कर मिलते जुलते विषयों पर पत्र लेखन के प्रश्न हल कर सकते हैं। इस पत्र लेखन से मिलते जुलते निम्न विषयों पर पत्र लेखन का अभ्यास आप कर सकते हैं जिनसे आपको परीक्षा में अच्छे अंक लाने में सहता मिलेगी जैसे – अपने पिताजी के स्थानांतरण पर नये विद्यालय में प्रवेश के लिये प्रार्थना पत्र लिखिए, टीसी के लिए आवेदन पत्र हिंदी में, स्कूल छोड़ने के लिए प्रमाण पत्र, नौकरी में स्थानांतरण हेतु आवेदन पत्र, स्थानांतरण प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र हिंदी में, कॉलेज छोड़ने के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, १२ वीं के बाद स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, ट्रांसफर हेतु आवेदन पत्र

कृपया अपने सुझाव हमें अवश्य भेजें।

Advertisement

Leave a Reply