Advertisements

छात्रावास में रहने का वर्णन करते हुए मित्र को पत्र लिखिए for Class 9, 10, 11, 12

Chhatrawas mein rahne ka varnan karte hue mitra ko patra likhiye विषय पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों के लिए यहाँ पर पत्र लेखन के उदाहरण दिये गए हैं। पत्र लेखन के इन उदाहरणों के आधार पर आप विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पत्र लेखन कर सकते हैं।

Advertisements

छात्रावास में रहने का वर्णन करते हुए मित्र को पत्र लिखिए । (Class 9-10)

नेहरू छात्रावास
नेतरहाट
रांची ,

दिनांक 8.6.22

प्रिय मित्र भुवन

Advertisements

आशा है तुम स्वस्थ और सकुशल होंगे। मैं भी अपने छात्रावास जीवन का आनंद ले रहा हूँ। इस पत्र के द्वारा मैं तुम्हें अपने छात्रावास जीवन के बारे में बताना चाहता हूँ। छात्रावास की जिंदगी नियमों और अनुशासन पर चलती है। यहाँ प्रत्येक काम का एक समय निश्चित होता है और हमें उसी के अनुसार चलना होता है। समय पर काम करने से समय निष्ठ हो जाते है और हमें समय पर काम करने की आदत बन जाती है।

यहाँ बच्चों के स्वास्थ्य का विशेषध्यान रखा जाता है इसलिए सुबह की शुरुआत व्यायाम से होती है। खुली हवा में टहलना और व्यायाम करना बहुत अच्छा लगता है। व्यायाम के बाद हम सभी छात्र दैनिक क्रिया से निपट कर स्कूल जाने केलिए तैयार होते है तभी नाश्ता करने का सायरन बज जाता है। एक जैसे परिधान में बच्चों का एक साथ चलना अच्छा लगता है। इसके बाद सभी बच्चेअपनी अपनी कक्षाओं में जाते है और दोपहर 1.30 बजे भोजन करने जाते है। शाम को खेलने के बाद हमारी रेमेडियल क्लास होती है और 8 बजे रात का खाना खाकर हम सभी स्व अध्ययन करते है और 11 बजे सोने का अलार्म बजते ही सभी बच्चों की काउंटिंग होती है और उसके बाद हम नींद के आगोश में चले जाते है।

Advertisements

यहाँ हम एक नियम में बंधकर काम करते है लेकिन फिर भी मजा आता है। जीवन को नए अंदाज में जीने का मजा ही कुछ और है।

अपने छात्रावास की शेष बातें मैं फिर सुनाऊँगा ,अभी मेरे खेलने का समय हो रहा है।
घर में सभी सदस्यों को मेरा अभिवादन कहना ।

तुम्हारा मित्र ,रूपेश

छात्रावास में रहने का वर्णन करते हुए मित्र को पत्र लिखिए ।(Class 11-12)

नवोदय विद्यालय
अगसौली
एटा,

दिनांक -8.6.22

प्रिय सखी रीमा

सप्रेम नमस्कार,

तुम्हारा पत्र मिला और यह जानकर बहुत खुशी हुई कि इन दिनों तुम अपने माता पिता के साथ छुट्टियों के मजे ले रही हो। हमारी परीक्षाएं अभी नहीं हुई है इसलिए मैं अभी छात्रावास में ही अपना समय बीता रही हूँ। छात्रावास में रहने का भी अपना एक अलग ही मजा है। माना कि घर पर अपने परिवार के साथ रहना बहुत अच्छा लगता है लेकिन एक बेहतर भविष्य के लिए यदि कुछ खोना पड़े तो हमे परेशान नहीं होना चाहिए।

छात्रावास की दिन चर्या घर के दिनचर्या से एकदम अलग होती है। घर पर हम बेफिक्र होते है पर यहाँ हमे अपनी छोटी सी छोटी चीज का ध्यान रखना पड़ता है। यहाँ हमे अपनी दिनचर्या एक निश्चित अनुशासन में रहकर पूरा करना पड़ता है। यदि हमने समय का ध्यान नहीं रखा तो सब कुछ अस्त व्यस्त हो जाता है। छात्रावास हमे सहयोग और सहकार सिखाती है। छात्रावास में रहकर हम आगामी भविष्य के लिए तैयार होते है। माना कि यहाँ प्रत्येक काम का एक निश्चित समय है और यदि हमने उस नियत समय पर काम नहीं किया तो हमे दंड भी दिया जाता है लेकिन यह अनुशासन भी हमे कर्तव्यनिष्ठ और समयनिष्ठ बनती है। तुम्हें यह जानकर बहुत आश्चर्य होगा कि यहाँ प्रत्येक कार्य के लिए सायरन की आवाज पर निर्भर रहना पड़ता है लेकिन मजा खूब आता है।आशा करती हूँ तुम भी मेरे छात्रावास जीवन के बारे में सुनकर आनंद उठा रही होंगी।

चाचाजी और चाची जी को मेरा प्रणाम कहना ,
तुम्हारा मित्र
लोकेश

Patra lekhan in Hindi Class 6
Patra lekhan in Hindi Class 7
Patra lekhan in Hindi Class 8
Patra lekhan in Hindi Class 9
Patra lekhan in Hindi Class 10
Patra lekhan in Hindi Class 11
Patra lekhan in Hindi Class 12

पत्र लेखन के विषय (patra lekhan topics in Hindi), पत्र लेखन प्रारूप Patra Lekhan Formats, औपचारिक पत्र Aupcharik Patra, अनौपचारिक पत्र  Anaupcharik Patra आदि के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

पत्र लेखन PATRA LEKHAN | LETTER WRITING IN HINDI for FULL MARKS

औपचारिक एवं अनौपचारिक पत्र लेखन के 100 से अधिक उदाहरण 

आशा है कि छात्रावास में रहने का वर्णन करते हुए मित्र को पत्र लिखिए  विषय पर प्रस्तुत पत्र लेखन के उदाहरण आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगे। आप इन पत्रों में थोड़ी बहुत फेर-बदल कर मिलते जुलते विषयों पर पत्र लेखन के प्रश्न हल कर सकते हैं। इस पत्र लेखन से मिलते जुलते निम्न विषयों पर पत्र लेखन का अभ्यास आप कर सकते हैं जिनसे आपको परीक्षा में अच्छे अंक लाने में सहता मिलेगी जैसे – अपने पिताजी के स्थानांतरण पर नये विद्यालय में प्रवेश के लिये प्रार्थना पत्र लिखिए, टीसी के लिए आवेदन पत्र हिंदी में, स्कूल छोड़ने के लिए प्रमाण पत्र, नौकरी में स्थानांतरण हेतु आवेदन पत्र, स्थानांतरण प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र हिंदी में, कॉलेज छोड़ने के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, १२ वीं के बाद स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, ट्रांसफर हेतु आवेदन पत्र

कृपया अपने सुझाव हमें अवश्य भेजें।

[display-posts category_id=””2739″”  wrapper=””div”” wrapper_class=””my-grid-layout””  posts_per_page=””10″”]

Leave a Reply

Your email address will not be published.