नेपाल के और करीब आया चीन – बाढ़ पीड़ितों को दी 10 लाख डालर की मदद

भारत-नेपाल के बदलते रिश्तों के बीच चीन ने नेपाल से नजदीकी बढ़ानी शुरू कर दी है. नेपाल आज 3 दशक में आयी सबसे भयानक बाढ़ से जूझ रहा है इस बाढ़ से अबतक 115 लोग मारे जा चुके हैं. और ऐसे में चीन ने नेपाल से रिश्ते मजबूत करने के लिए अपनी चाल चल दी है. चीन ने नेपाल के बाढ़ पीड़ितों के लिए 10 लाख डालर यानि 6.4 करोड़ रूपए दिए हैं जिससे बाढ़ पीड़ितों को तत्काल राहत पहुचायी जा सके.

आपसी रिश्ते मजबूत करने के लिए चीन ने नेपाल के साथ पेट्रोलियम गैस और खदान से सम्बंधित समझौते भी हुए. आरनिको राजमार्ग के पुनर्निमाण और केरूंग-रासुवागार्ही रोड के निर्माण के लिए 15 अरब डॉलर की परियोजना पर समझौता किया है।

चीन और नेपाल ने भविष्य में आपसी व्यापार को बढ़ाने पर भी सहमति दी. चीन के उप-राष्ट्रपति वांग ने नेपाल के पूर्व शाही महल के निर्माण का उद्घाटन किया। शाही महल भी भूकंप में क्षतिग्रस्त हो गया था। भूकंप के दो साल बाद चीन ने इस शाही महल की मरम्मत के लिए आर्थिक मदद दी थी। वांग ने नेपाले के पूर्व प्रधानमंत्रियों केपी ओली और पुष्प कमल दहल “प्रचंड” से भी मुलाकात की।