Advertisements

चीन सीमा के पास मिला गायब सुखोई विमान का मलबा

गुवाहाटी: शुक्रवार को भारतीय वायुसेना के लापता सुखोई -30 लड़ाकू जेट के मलबे को शुक्रवार को अरुणाचल प्रदेश के घने जंगलों से प्राप्त किया गया। चीन की सीमा के करीब दो पायलटों के साथ लड़ाकू विमान गायब हो गया था। खोज मिशन के लिए विद्युत-ऑप्टिकल पेलोड और आईएएफ के एएलएच हेलीकॉप्टर के साथ सी -130 विमान का इस्तेमाल किया जा रहा है।

चीन सीमा के पास मिला गायब सुखोई विमान का मलबा

Advertisements

सुखोई का मलबा मिला अरुणाचल के जंगलो से

23 मई को नियमित ट्रेनिंग मिशन पर 9.30 बजे अरुणाचल प्रदेश में भारत-चीन सीमा से लगभग 172 किलोमीटर दूर आईएएफ तेजपुर हवाई अड्डे से बोर्ड पर दो पायलटों के साथ सी- 130 विमान उड़ा था। अरुणाचल प्रदेश के डुलासांग क्षेत्र के करीब 11.30 मीटर के आसपास नियंत्रण क्षेत्र के साथ रडार और रेडियो संपर्क खो गया| चीन के आसपास के क्षेत्र तेजपुर से 60 किमी उत्तर में स्थित है। तेजपुर देश में तीन आईएएफ वायु अड्डों में से एक है जो सुखोइ की मेजबानी करता है।

पिछले साल, एक सुखोई -30 एमकेआई असम के नागाउन शहर के निकट एक नियमित उड़ान के दौरान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इसके दोनों पायलटों ने सुरक्षित रूप से बाहर निकलते हुए समझदारी का परिचय दिया था| कुछ स्थानीय लोगों को दुर्घटना में कुछ चोटों का सामना करना पड़ा था। पिछले 7 सालो में 8 सुखोई विमान दुर्घटनाग्रस्त हो चुके है|

Advertisements
Advertisements
Advertisements