कांगेस ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के अफगानिस्तान से लौटते समय अचानक पाकिस्तान के संक्षिप्त दौरे की जोरदार आलोचना की है।  कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि यह बैठक पहले से फिक्स थी और इसकी इबारत भारत एक बड़े बिजिनेसमैन ने लिखी थी जिनके नवाज शरीफ से व्यावसायिक रिश्ते हैं।

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पाकिस्तान दौरे को लेकर शुक्रवार को सवाल उठाते हुए कहा कि इस तरह की गंभीर सूचना का ट्विटर पर खुलासा नहीं करना चाहिए था। कांग्रेस प्रवक्ता अजय कुमार ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि प्रधानमंत्री के दौरे के बारे में हमें ट्वीट के माध्यम से जानकारी मिल रही है। भारत और पाकिस्तान के संबंध अभी उतने अच्छे नहीं हुए हैं कि किसी अन्य देश से स्वदेश लौटते वक्त वह पाकिस्तान में रुकें।”

कांग्रेस, जनता दल (यू) और शिवसेना ने नरेंद्र मोदी के पाकिस्तान दौरे पर उठाये सवालउन्होंने सवाल किया, “संसद का सत्र अभी कुछ दिन पहले ही समाप्त हुआ है, फिर संसद व देश को अंधेरे में क्यों रखा गया। प्रधानमंत्री ने देश व संसद को विश्वास में क्यों नहीं लिया।”

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने इसे प्रधानमंत्री द्वारा जोखिम भरा काम करार दिया।

यह भी पढ़िए – तो यह है नरेंद्र मोदी के पाकिस्तान दौरे की वजह..

तिवारी ने कहा, “प्रधानमंत्री के इस जोखिम भरे काम का राष्ट्रीय सुरक्षा पर असर पड़ेगा। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) या हार्ट ऑफ एशिया कांफ्रेंस के माध्यम से संबंधों (पाकिस्तान के साथ) में कोई परिवर्तन नहीं हुआ। प्रधानमंत्री को बताने की जरूरत है कि जमीनी स्तर पर क्या बदलाव आए हैं।”

एक चौंकाने वाला बयान देते हुए शुक्रवार को नरेंद्र मोदी ने कहा कि वह अफगानिस्तान से नई दिल्ली लौटते वक्त दोपहर में लाहौर में रुकेंगे और अपने पाकिस्तानी समकक्ष नवाज शरीफ से मुलाकात करेंगे।

यह भी पढ़िए  पुतिन ने कहा- भारत है सबसे करीबी दोस्त, पाकिस्तान से करीबी नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेहद अप्रत्याशित पाकिस्तान दौरे का विपक्षी कांग्रेस और जेडी (यू) के साथ-साथ एनडीए की सहयोगी शिवसेना ने विरोध किया है।

शिवसेना ने तो मोदी पर यह कहकर कटाक्ष किया कि कल दाऊद का जन्मदिन है और उन्हें बधाई देने के लिए बड़ी-बड़ी हस्तियां पाकिस्तान जा रही हैं।

शिव सेना के प्रवक्ता संजय राउत ने मोदी के पाक दौरे पर तंज कसते हुए कहा, ‘क्या आज की मुलाकात के बाद दाऊद इब्राहिम भारत के हवाले किया जाएगा?’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अचानक पाकिस्तान जाने के ऐलान से ‘कभी धूप-कभी छांव’ की तरह चल रहे द्विपक्षीय रिश्तों में अचानक नई ऊर्जा का संचार देखने को मिल रहा है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी पीएम के इस कदम का स्वागत किया। उल्लेखनीय है कि आज पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का जन्मदिन भी है।

यह भी पढ़िए – ‘मंदिर के लिए अगर पत्थर आएगा तो मस्जिद के लिए भी पत्थर मंगाकर तराशेंगे’

सुषमा ने प्रधानमंत्री के ट्वीट को शेयर करते हुए लिखा- ‘देट्स लाइक अ स्टेट्समैन। पड़ोसियों से ऐसे ही रिश्ते होने चाहिये।’ इससे पहले हाल ही में सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तान दौरे पर शरीफ से मुलाकात की थी। मोदी पाकिस्तान जाने वाले चौथे भारतीय प्रधानमंत्री हैं।

हिंदी वार्ता से जुडें फेसबुक पर-अभी लाइक करें

 
सरिता महर
हेल्लो दोस्तों! मेरा नाम सरिता महर है और मैं रिलेशनशिप तथा रोचक तथ्यों पर आप सब के लिए मजेदार लेख लिखती हूँ. कृपया अपने सुझाव मुझे हिंदी वार्ता के माध्यम से भेजें. अच्छे लेखों को दिल खोल कर शेयर करना मत भूलना