Advertisements

कोरोना हो जाने के कारण आपका मित्र घर पर ही स्वास्थ्य सुविधाएं ले रहा उसे पत्र लिखकर बताए कि वह क्या करें औऱ क्या नही?

Corona ho jane ke karan apka mitra ghar par hi svasthy suvidhaen le raha hai use patra likhkar bataey ki weh kya kare aur kya nahi विषय पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों के लिए यहाँ पर पत्र लेखन के उदाहरण दिये गए हैं। पत्र लेखन के इन उदाहरणों के आधार पर आप विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पत्र लेखन कर सकते हैं।

Advertisements

कोरोना हो जाने के कारण आपका मित्र घर पर ही स्वास्थ्य सुविधाएं ले रहा उसे पत्र लिखकर बताए कि वह क्या करें औऱ क्या नही?

सेक्टर 45
मयूर विहार
नई दिल्ली

दिनांक – 5.6.22

प्रिय मित्र ,

Advertisements

मैं यहाँ कुशल से हूँ और तुम्हारी कुशलता की प्रार्थना करता हूँ। तुम्हारे पत्र से यह जानकारी मिली कि तुम भी कोरोना की चपेट में आ गए हो। इस समय कोरोना ने ऐसा कहर ढाया है कि संपूर्ण विश्व इससे जूझ रहा है। यह अत्यंत संक्रामक बीमारी है जो बहुत तेजी से फैलता है।इस समय जो कोरोना से बच गया वो सबसे भाग्यशाली है। तेजी से फैल रहे इस बीमारी के कारण एक एक दिन में लाखों लोग इसके शिकार हो रहे है। यही कारण है कि अस्पतालों में मरीजों के लिए जगह नहीं बची है। कोरोना का सही इलाज अपने आप को सबसे अलग रखने में है।

अस्पतालों में बढ़ती भीड़ को देखते हुए सरकार ने यह घोषणा की है कि अब कोरोना के मरीज को घर पर ही स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जाए क्योंकि एक तो अस्पतालों में जगह नहीं है और दूसरी बात यह कि यह संक्रामक बीमारी के मरीज की देख रेख गर पर ज्यादा अच्छे तरीके से हो सकती है। इसलिए तुमने अच्छा किया जो तुमने गर पर रहने का निर्णय लिया है लेकिन इसके बाद तुम्हें विशेष सावधानी की आवश्यकता होंगी।एक तो तुम्हें अपने लिए एक अलग कमरे की जरूरत होंगी। इसके बाद नियमित रूप से तुम्हें अपना चिकित्सकीय परीक्षण करवाते रहना चाहिए।चिकित्सकीय परामर्श के अनुसार दवा और पथ्य का सेवन करना चाहिए। ज्यादा से ज्यादा गरम पदार्थों का सेवन करना चाहिए। ज्यादा से ज्यादा आराम करना चाहिए।

Advertisements

इसके साथ ही कुछ चीजें ऐसी है जिसे तुम्हें नहीं करना चाहिए जो कोरोना संक्रमित मरीज के लिए बिल्कुल निषेध है।सबसे पहले तुम्हें ठंडे पदार्थों से बचना चाहिए। किसी वस्तु को छूने से पहले हाथों को अच्छे से धोना चाहिए। सेनेटाइजर का प्रयोग करना चाहिए। बाहर निकलने से बचना चाहिए।
इस प्रकार तुम अपने आप को स्वस्थ रख सकते हो। अपना ध्यान रखना और शीघ्र स्वस्थ होना।

तुम्हारा मित्र
सुनील

Patra lekhan in Hindi Class 6
Patra lekhan in Hindi Class 7
Patra lekhan in Hindi Class 8
Patra lekhan in Hindi Class 9
Patra lekhan in Hindi Class 10
Patra lekhan in Hindi Class 11
Patra lekhan in Hindi Class 12

पत्र लेखन के विषय (patra lekhan topics in Hindi), पत्र लेखन प्रारूप Patra Lekhan Formats, औपचारिक पत्र Aupcharik Patra, अनौपचारिक पत्र  Anaupcharik Patra आदि के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

पत्र लेखन PATRA LEKHAN | LETTER WRITING IN HINDI for FULL MARKS

औपचारिक एवं अनौपचारिक पत्र लेखन के 100 से अधिक उदाहरण 

आशा है कि कोरोना हो जाने के कारण आपका मित्र घर पर ही स्वास्थ्य सुविधाएं ले रहा उसे पत्र लिखकर बताए कि वह क्या करें औऱ क्या नही  विषय पर प्रस्तुत पत्र लेखन के उदाहरण आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगे। आप इन पत्रों में थोड़ी बहुत फेर-बदल कर मिलते जुलते विषयों पर पत्र लेखन के प्रश्न हल कर सकते हैं। इस पत्र लेखन से मिलते जुलते निम्न विषयों पर पत्र लेखन का अभ्यास आप कर सकते हैं जिनसे आपको परीक्षा में अच्छे अंक लाने में सहता मिलेगी जैसे – अपने पिताजी के स्थानांतरण पर नये विद्यालय में प्रवेश के लिये प्रार्थना पत्र लिखिए, टीसी के लिए आवेदन पत्र हिंदी में, स्कूल छोड़ने के लिए प्रमाण पत्र, नौकरी में स्थानांतरण हेतु आवेदन पत्र, स्थानांतरण प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र हिंदी में, कॉलेज छोड़ने के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, १२ वीं के बाद स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, ट्रांसफर हेतु आवेदन पत्र

कृपया अपने सुझाव हमें अवश्य भेजें।

[display-posts category_id=””2739″”  wrapper=””div”” wrapper_class=””my-grid-layout””  posts_per_page=””10″”]

Leave a Reply

Your email address will not be published.