Advertisement

देश में फैले सांप्रदायिक उन्माद के संबध में समाचार पत्र के संपादक को पत्र लिखिए for class 9,10,11,12

Desh mein faile sampradayik unmad ke sambandh mein samachar patra ke sampadak ko patra likhiye विषय पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों के लिए यहाँ पर पत्र लेखन के उदाहरण दिये गए हैं। पत्र लेखन के इन उदाहरणों के आधार पर आप विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पत्र लेखन कर सकते हैं।

देश में फैले सांप्रदायिक उन्माद के संबध में समाचार पत्र के संपादक को पत्र लिखिए । (Class 9-10)

रमेश विहार
रामघाट रोड
अलीगढ़

Advertisement

दिनांक – 25.6.22

माननीय संपादक
अमर उजाला
रामघाट रोड
अलीगढ़

Advertisement

विषय – सांप्रदायिक उन्माद के संबध में

महोदय ,

Advertisement

सविनय निवेदन है कि मैं आपके अखबार का नियमित पाठक हूँ । आपकी अखबार की लोकप्रियता को देखते हुए मैं देश में फैले सांप्रदायिक उन्माद की ओर आपका ध्यान दिलाना चाहता हूँ । कुछ तथाकथित राजनेता सस्ती लोकप्रियता के लिए ऐसे बयानबाजी करते है कि किसी खास समुदाय को ठेस पँहुचती है लेकिन इससे राजनेताओं को कोई फर्क नहीं पड़ता । उनका मकसद होता है देश में उन्माद और नफरत की भावना को उभारना और ये इसमे सफल भी हो जाते है।

अतः मैं चाहता हूँ कि आप अपने अखबार के माध्यम से इन तथाकथित नेताओं की असलियत को प्रकट करें जिससे दो समुदायों में पनपी सांप्रदायिक तनाव कम हो। यह आपकी एक अति महत्वपूर्ण देश सेवा होंगी। देश में फैले सांप्रदायिक उन्माद को रोकने के लिए यदि आपने मेरे अनुरोध को स्वीकार कर लिया तो हम सभी आपके सदा आभारी रहेंगे।

सधन्यवाद
प्रार्थी
तन्मय

Advertisement

देश में फैले सांप्रदायिक उन्माद के संबध में समाचार पत्र के संपादक को पत्र लिखिए । (Class 11-12 )

रमेश विहार
रामघाट रोड
अलीगढ़

दिनांक – 25.6.22

माननीय संपादक
अमर उजाला
रामघाट रोड
अलीगढ़

विषय – सांप्रदायिक उन्माद के संबध में

महोदय ,

अत्यंत विनम्रता पूर्वक मैं आपसे आग्रह करना चाहता हूँ कि मैं विनय कुमार आपके अखबार के माध्यम से शहर में फैले सांप्रदायिक उन्माद की ओर आपका ध्यान आकर्षित करना चाहता हूँ। इन दिनों हमारा शहर हमारा देश सांप्रदायिक घृणा और उन्माद में जल रहा है। कुछ नेताओं की स्वार्थ लिप्सा और वोट लालसा ने दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने का काम बखूबी किया है। अतार्किक बयानबाजी , असंबद्ध योजनाओं का क्रियान्वयन एवं किसी विशेष समुदाय के धार्मिक भावनाओं को ठेस पँहुचाकर शहर में उन्माद फैलाना ही इनका उद्देश्य रहा है।

Advertisement

अतः आपसे करबद्ध निवेदन है कि आप अपने अखबार मे मेरे विचारों को प्रकाशित करवाएं तथा संपादकीय में इससे संबधित लेख और विवरण प्रकाशित करवाएं। मुझे पूरा विश्वाश है कि आपका अखबार इतना लोक प्रिय है कि इसके माध्यम से ज्यादा से ज़्यादा लोगों तक यह बात जाए और सांप्रदायिक उन्माद में कमी हो । आपकी इस कृपा के लिए हम सभी आपके आभारी रहेंगे।
आपसे सकारात्मक उत्तर की अपेक्षा में

सधन्यवाद
प्रार्थी
विनय कुमार

Patra lekhan in Hindi Class 6
Patra lekhan in Hindi Class 7
Patra lekhan in Hindi Class 8
Patra lekhan in Hindi Class 9
Patra lekhan in Hindi Class 10
Patra lekhan in Hindi Class 11
Patra lekhan in Hindi Class 12

Advertisement

पत्र लेखन के विषय (patra lekhan topics in Hindi), पत्र लेखन प्रारूप Patra Lekhan Formats, औपचारिक पत्र Aupcharik Patra, अनौपचारिक पत्र  Anaupcharik Patra आदि के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

पत्र लेखन PATRA LEKHAN | LETTER WRITING IN HINDI for FULL MARKS

औपचारिक एवं अनौपचारिक पत्र लेखन के 100 से अधिक उदाहरण 

आशा है कि देश में फैले सांप्रदायिक उन्माद के संबध में समाचार पत्र के संपादक को पत्र लिखिए  विषय पर प्रस्तुत पत्र लेखन के उदाहरण आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगे। आप इन पत्रों में थोड़ी बहुत फेर-बदल कर मिलते जुलते विषयों पर पत्र लेखन के प्रश्न हल कर सकते हैं। इस पत्र लेखन से मिलते जुलते निम्न विषयों पर पत्र लेखन का अभ्यास आप कर सकते हैं जिनसे आपको परीक्षा में अच्छे अंक लाने में सहता मिलेगी जैसे – अपने पिताजी के स्थानांतरण पर नये विद्यालय में प्रवेश के लिये प्रार्थना पत्र लिखिए, टीसी के लिए आवेदन पत्र हिंदी में, स्कूल छोड़ने के लिए प्रमाण पत्र, नौकरी में स्थानांतरण हेतु आवेदन पत्र, स्थानांतरण प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र हिंदी में, कॉलेज छोड़ने के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, १२ वीं के बाद स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, ट्रांसफर हेतु आवेदन पत्र

कृपया अपने सुझाव हमें अवश्य भेजें।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.