दिल्ली में प्राप्त सुविधाओ और असुविधाओ का परिचय देते हुए मित्र को पत्र लिखिए for Class 11-12

Delhi mein prapat suvidhaon aur asuvidhaon ka parichy dete hue mitra ko patra likhiye विषय पर विभिन्न कक्षाओं के छात्रों के लिए यहाँ पर पत्र लेखन के उदाहरण दिये गए हैं। पत्र लेखन के इन उदाहरणों के आधार पर आप विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पत्र लेखन कर सकते हैं।

दिल्ली में प्राप्त सुविधाओ और असुविधाओ का परिचय देते हुए मित्र को पत्र लिखिए। (Class 11-12)

इंदिरा पुरम
नई दिल्ली ,

दिनांक – 25.6.22

प्रिय मित्र सुरेश
नमस्कार,

तुम्हारे प्राप्त पत्र से मुझे यह जानकारी मिली कि 12 वीं के बाद तुमने आगे की पढ़ाई के लिए दिल्ली विश्व विद्यालय का चुनाव किया है इसलिए तुम दिल्ली में मिलनेवाली सुविधाओं और असुविधाओं के बारे में जानना चाहते हो। इस पत्र में मैं तुम्हें दिल्ली की सुविधाओ और असुविधाओं के बारे में बताना चाहूँगा।

दिल्ली मेट्रो सिटी में शुमार हो गया है इसलिए यहाँ प्राप्त सुविधाओं के बारे में क्या कहना। यहाँ बड़े बड़े होटल पर्यटक स्थल मॉल तो है ही यातायात के महंगे साधन भी उपलब्ध भी है।भीड़ भाड़ चहल पहल यहाँ की निशानी है। अगर तुम यहाँ पढ़ना चाहते हो तो यहाँ एक से एक बढ़कर महाविद्यालय और विश्व विद्यालय है जो तुम्हें उच्च शिक्षा दे सकते है।

लेकिन जिस प्रकार हर चीज के दो पहलू होते है उसी प्रकार दिल्ली में इन सुविधाओं के साथ साथ अनेक कठि नाइयाँ भी है। सबसे पहला यह कि यहाँ एक जगह से दूसरी जगह जाने में बहुत समय लगता है और जाने के लिए जिन साधनों का प्रयोग किया जाता है वह बहुत महंगा है। इसके अतिरिक्त यहाँ आवास की भी गंभीर समस्या है। साथ ही बिजली और पानी की भी समस्या बनी रहती है। यहाँ की आम दिनचर्या भी बहुत कठिन है । सामान्य दैनिक उपभोग की चीजों के लिए भी पापड़ बेलने पड़ते है।

इन सब असुविधाओं के बावजूद भी दिल्ली में रहने का अपना अलग ही मजा है। आओ दिल्ली में तुम्हारा स्वागत है। शेष बातें जब तुम यहाँ आ जाओगे तब तुम खुद ही समझ जाओगे ।

तुम्हारा मित्र
वरुण

Patra lekhan in Hindi Class 6
Patra lekhan in Hindi Class 7
Patra lekhan in Hindi Class 8
Patra lekhan in Hindi Class 9
Patra lekhan in Hindi Class 10
Patra lekhan in Hindi Class 11
Patra lekhan in Hindi Class 12

पत्र लेखन के विषय (patra lekhan topics in Hindi), पत्र लेखन प्रारूप Patra Lekhan Formats, औपचारिक पत्र Aupcharik Patra, अनौपचारिक पत्र  Anaupcharik Patra आदि के बारे में विस्तार से जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़ें:

पत्र लेखन PATRA LEKHAN | LETTER WRITING IN HINDI for FULL MARKS

औपचारिक एवं अनौपचारिक पत्र लेखन के 100 से अधिक उदाहरण 

आशा है कि दिल्ली में प्राप्त सुविधाओ और असुविधाओ का परिचय देते हुए मित्र को पत्र लिखिए  विषय पर प्रस्तुत पत्र लेखन के उदाहरण आपके लिए उपयोगी सिद्ध होंगे। आप इन पत्रों में थोड़ी बहुत फेर-बदल कर मिलते जुलते विषयों पर पत्र लेखन के प्रश्न हल कर सकते हैं। इस पत्र लेखन से मिलते जुलते निम्न विषयों पर पत्र लेखन का अभ्यास आप कर सकते हैं जिनसे आपको परीक्षा में अच्छे अंक लाने में सहता मिलेगी जैसे – अपने पिताजी के स्थानांतरण पर नये विद्यालय में प्रवेश के लिये प्रार्थना पत्र लिखिए, टीसी के लिए आवेदन पत्र हिंदी में, स्कूल छोड़ने के लिए प्रमाण पत्र, नौकरी में स्थानांतरण हेतु आवेदन पत्र, स्थानांतरण प्रमाण पत्र हेतु आवेदन पत्र हिंदी में, कॉलेज छोड़ने के प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, १२ वीं के बाद स्थानांतरण प्रमाण पत्र के लिए आवेदन, ट्रांसफर हेतु आवेदन पत्र

कृपया अपने सुझाव हमें अवश्य भेजें।

[display-posts category_id=””2739″”  wrapper=””div”” wrapper_class=””my-grid-layout””  posts_per_page=””10″”]

Leave a Reply