डीएमके नेता को विधानसभा से किया गया बाहर, फिर पुलिस ने किया अरेस्ट

चेन्नई: तमिलनाडु विधानसभा में आज जमकर हंगामा हुआ| विश्वासमत से पहले यहाँ जमकर हंगामा किया गया| जिसके बाद डीएमके विधायकों को बाहर कर दिया गया| सभी निकाले गए विधायक विधानसभा के बहार आंदोलन करने लगे|

डीएमके नेता स्टालिन ने कहा हमें जबरन विधानसभा से निकाला गया

बाहर आने पर डीएमके नेता स्टालिन ने मिडिया से कहा हमें विधानसभा अध्यक्ष ने जबरदस्ती बाहर निकल दिया| उन्होंने आगे कहामैने सभा में विधायकों की खरीद-फरोख्त का मुद्दा उठाया| मैने कहा इस मुद्दे की सीबीआई जांच होनी चाहिए| इसलिए मेरे और मेरे साथियो के साथ ऐसा व्यवहार किया गया| स्टालिन और अन्य विधायकों ने विधानसभा के बाहर प्रदर्शन शुरू कर दिया| जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है| फ़िलहाल पुलिस ने स्टालिन समेत कई विधायक हिरासत में ले लिए है|

एक वीडियो को लेकर हुआ विवाद शुरू

यह वीडियो ओ पन्नीरसेल्वम के नेतृत्व वाले गुट के एक विधायक का है| जिसमे उस विधायक ने फरवरी में हुए विश्वासमत से पहले विधायकों की खरीद-फरोख्त की बात कही है| विधायक एस एस सवर्णन ने दावा किया है कि 18 फरवरी को विश्वासमत से पहले सत्तारूढ़ पार्टी के विधायकों को पैसे दिए गए है| इसके लिए सवर्णन ने उचित स्पष्टीकरण माँगा है| विधायक सवर्णन ने कहा जारी वीडियो फुटेज में आवाज उनकी नहीं है| यह आवाज किसी और की है|