GST में होगा बड़ा बदलाव,सिर्फ दो ही होंगे टैक्स स्लैब.

जीएसटी परिषद के सदस्य,सुशील कुमार मोदी ने दिए GST में बड़े बदलाव के संकेत.बहुत जल्द ही जीएसटी के चार टैक्स स्लैब हटाकर केवल दो कर दिए जाएंगे.

जीएसटी को लेकर सरकार की ओर से कई तरह के मंथन लगातार जारी है.पिछले दिनों गुवाहाटी में हुई जीएसटी परिषद की बैठक में 178 चीजों के टैक्स स्लैब बदले गए हैं.

सुशील कुमार मोदी के अनुसार जीएसटी के अंतर्गत किए जा रहे,बदलाव से चीजों की कीमतें लगातार घट रही हैं.

चूंकि प्रोडक्ट में साफ तौर पर लिखा जा रहा है कि इतना जीएसटी लगाया जा रहा है जिससे लोगों को लगता है कि कोई अलग से टैक्स लिया जा रहा है.

जबकि पहले इन्हीं उत्पादों पर 31 फीसदी का टैक्स लगता था .लेकिन उसमें एक्साइज ड्यूटी का पार्ट नहीं दिखाया जाता था .खाली वैट का हिस्सा छपा होता था.

आज से लागू होंगी जीएसटी की नई दरें, जानें कौन-कौन सी चीजें हो जाएंगी सस्तीएसी-फ्रिज, वॉशिंग मशीन समेत 50 चीजें लगेगा 28 प्रतिशत जीएसटी.28 प्रतिशत वाले स्लैब में अब 228 वस्तुएं नहीं सिर्फ 50 वस्तुएं ही रह गई हैं.

इसमें अब पान मसाला, सॉफ्ट ड्रिंक, सीमेंट, पेंट, एयर कंडीशनर, परफ्यूम, फ्रिज, वॉशिंग मशीन, कार, दोपहिया वाहन और विमान इस स्लैब में रहेंगे.

जिन चीजों पर 28 प्रतिशत की जगह लगेगा 18 प्रतिशत टैक्स.वो हैं इलेक्ट्रिक प्लग, ट्रैवलिंग बैग,परफ्यूम, मेकअप के सामान ,धुलाई और सफाई में इस्तेमाल होने वाले सामान,कटलरी,साउंड रिकॉर्डिंग उपकरण,सभी प्रकार के संगीत उपकरण और उससे जुड़े सामान.

18 के बजाए इन वस्तुओं पर लगेगा 12 फीसद जीएसटी.वो हैं मधुमेह रोगियों को दिया जाने वाला भोजन,प्रिंटिंग इंक,कटाई से जुड़ी मशीनरी के सामान,जूट, कॉटन के बने हैंड बैग और शॉपिंग बैग,रिफाइंड सुगर और सुगर क्यूब, गाढ़ा किया हुआ दूध,पास्ता और सिलाई मशीन का सामान.

जिन वस्तुओं पर 18 के बजाए लगेगा सिर्फ 5 फीसदी जीएसटी.वो हैं चटनी पाउडर,पीनट चिक्की,काजू कतली,कपास के बुने हुए कपड़े,चमड़े से बने सामान, फ्लाई एश, फिशिंग नेट और फिशिंग हुक शामिल हैं.