टैंक हुए खराब, अंतर्राष्ट्रीय सैन्य प्रतियोगिता से भारत बाहर

Advertisement

रूस निर्मित T90 टैंकों में आयी खराबी ने भारत को अंतर्राष्ट्रीय सैन्य प्रतियोगिता से बाहर कर दिया. रूस की राजधानी मास्को में अंतर्राष्ट्रीय टैंक बैथलॉन 2017 का आयोजन किया जा रहा है इस प्रतियोगिता में हर देश अपने दो टैंक ले कर शामिल होता है जबकि भारत के दोनों ही टैंक खराब हो गए. भारतीय सेना ने देसी अर्जुन टैंक की जगह रूस में निर्मित T90 टैंकों को प्राथमिकता दी थी.

russian t 90

एक अधिकारी ने कहा, ‘पहले टैंक की फैन बेल्ट टूट गई। इसके बाद रिजर्व टैंक को रेस में भेजा गया लेकिन सिर्फ दो किलोमीटर की दौड़ के बाद ही इसका पूरा इंजन ऑइल लीक हो गया। यह टैंक रेस पूरी ही नहीं कर पाया। बदकिस्मती से भारतीय टीम डिस्क्वॉलिफाइ हो गई।’

Advertisement

ये देश पहुंचे सेमीफइनल में

चीन इस प्रतियोगिता में टाइप-96बी टैंकों से साथ उतरा है। इस टैंक में दौड़ते समय भी दुश्मन के टैंक पर मशीन गनों से फायर करने और अन्य कई खूबियां हैं। वहीं रूस और कजाखस्तान टी-72बी3 टैंकों के साथ इस प्रतियोगिता में उतरे। वहीं बेलारूस के पास टी-72 टैंकों का आधुनिक रूप है। ये चारों देश अब फाइनल में भिड़ेंगे।

Advertisement

डीआरडीओ इस बात को लेकर नाराज है कि सेना ने अभी तक अर्जुन मार्कII का ऑर्डर नहीं दिया है। डीआरडीओ का कहना है कि मार्कII ने 2010 में हुए प्रतिस्पर्धी ट्रायल में टी-90एस टैंकों से बेहतर प्रदर्शन किया था।

Advertisement
youtube shorts kya hai
Advertisement