गणतंत्र दिवस से पहले  एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है . यह खबर कुख्यात आतंकवादी संगठन आईएसआईएस (ISIS) के बारे में है जो आज दुनिया के अनेक देशों के लिए सिरदर्द बनता जा रहा है और विश्व में आतंक का पर्याय बन गया है। आज मुंबई एटीएस ने एक ने एक खुलासा करते हुए कहा कि आतंकी संगठन आईएस ने भारत के 10 से 12 राज्यों में अपना नेटवर्क फैला लिया है। मुंबई एटीएस (Mumbai ATS) ने अपने खुलासे में कहा कि आईएस भारत में इंटरनेट के जरिये युवाओं को अपनी ओर खींच रहा है। आज एटीएस ने ऐसी 94 वेबसाइट को ब्लॉक कर दिया जो युवाओं में आईएस की विचारधारा फैला रहे थे।

ISIS recruiting Indian Youth via Internet - Mumbai ATS
image source – www.apnewscorner.com

यह खबर इस लिए भी चौंकाने वाली है क्यूंकि अभी हाल ही में इस  आतंकी संगठन आईएस अपनी एक पत्रिका में दावा किया था कि वह साल 2020 तक भारत में अपने पाँव मजबूती से जमा लेगा। पिछले कुछ दिनों में भारत से बड़ी संख्या में ऐसे युवाओं का पता चला जो आईएस में शामिल होने की कोशिश कर रहे थे। इसलिए सरकार अब इसे बड़ी गंभीरता से ले रही हैं।

पिछले कुछ समय से भारतीय युवकों के आतंकवादी और कट्टरपंथी संगठनों की और आकर्षित होने की ख़बरें सामने आ रही हैं . पिछले साल मुंबई से सटे कल्याण से 4 लड़के इराक पहुंचे, फिर सीरिया में लड़ाई में भी हिस्सा लिया, उसमें सिर्फ आरिब मजीद वापस लौटा, जिसपर फिलहाल मामला चल रहा है। कुछ दिनों पहले पुणे में कॉन्वेंट स्कूल से पढ़ी लिखी लड़की भी ऑनलाइन चैट के जरिये सीरिया जाने का मंसूबा पाले बैठी थी।

यह भी पढ़िए  डोनाल्ड ट्रम्प - किसी भी कीमत पर मुस्लिम कट्टरपंथियों को अमेरिका में कदम नहीं रखने दूंगा !

गणतंत्र दिवस से पहले एनआईए और दूसरी एजेंसियां देश के अलग-अलग शहरों से आईएस से जुड़े संदिग्धों को खोज निकालने में जुटी हैं। इस मिशन में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक से कई युवकों को गिरफ्तार किया गया है। महाराष्ट्र एटीएस का भी मानना है कि देश के 10-12 राज्यों में इस आतंकी संगठन का प्रभाव दिख रहा है।

हिंदी वार्ता से जुडें फेसबुक पर-अभी लाइक करें

 
सरिता महर
हेल्लो दोस्तों! मेरा नाम सरिता महर है और मैं रिलेशनशिप तथा रोचक तथ्यों पर आप सब के लिए मजेदार लेख लिखती हूँ. कृपया अपने सुझाव मुझे हिंदी वार्ता के माध्यम से भेजें. अच्छे लेखों को दिल खोल कर शेयर करना मत भूलना