जानिये, उम्र के हिसाब से कितनी नींद है आपके लिए जरुरी?

Janiye, Umar Ke Hisab Se Kitni Nind Hai Apke Liye Zaruri?

पौष्टिक आहार के साथ-साथ पूरी नींद भी जरूरी है। आजकल हर दूसरा व्यक्ति नींद ना आने की बीमारी से ग्रस्त है। लेकिन पूरी नींद लेना, पूरा आहार लेने जितना ही जरूरी है। क्योंकि खाने से जिस प्रकार से हमें ऊर्जा मिलती है, नींद से वही ऊर्जा हमारे भीतर बनी रहती है।

क्या आप जानते हैं कि हमारा शरीर सुबह उठने पर सबसे अधिक ऊर्जा से युक्त होता है। और दिनभर के कार्यों को करने के बाद जब यह ऊर्जा समाप्त होने लगती है तो उसे पाने के लिए नींद जरूरी है।Umar Ke Hisab Se Kitni Nind Hai Apke Liye Zaruri

नींद यदि पूरी ना ली जाए तो उससे होने वाले नुकसान जानते हैं आप? सबसे पहला नुकसान हमारे चेहरे को होता है, आंखों के नीच गहरे काले धब्बे नींद ना पूरी होने का संकेत देते हैं। इसके बाद हमें भूख लगनी कम हो जाती है और यदि हम कुछ खाते भी हैं तो हमारी पाचन शक्ति उसे पचाने में अक्षम होती है। धीरे-धीरे बॉडी के अन्य अंग भी नींद ना पूरी होने की वजह से हमें इशारा देना आरंभ कर देते हैं।

यदि आप इन सभी दिक्कतों से बचना चाहते हैं तो पूरी नींद जरूर लें। यूं तो डॉक्टर प्रत्येक व्यक्ति को कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद लेने की सलाह देते हैं। लेकिन यदि आपको समय ना मिले तो कम से कम उतनी नींद लें जो आपके लिए जरूरी है।

आज हम आपको आपकी उम्र के हिसाब से आपके लिए कितने घंटों की नींद जरूरी है ये बताएंगे। यदि आप इतनी नींद भी पूरी कर लें तो आपको कभी भी नींद की कमी से होने वाली परेशानी नहीं जकड़ सकती।

नवजात शिशु से लेकर बूढ़े लोगों को भी कितनी नींद लेने की आवश्यकता है, यह हम आपको बताएंगे। एक नवजात बच्चे के लिए कम से कम 14 से 15 घंटे की नींद जरूरी है। जी हां… हैरानी हो रही होगी आपको लेकिन यह सत्य है कि एक नवजात शिशु को इतने घंटे सोना ही चाहिए।

इसके बाद 12 माह यानि कि एक साल से लेकर जब तक बच्चा 3 वर्ष की आयु का नहीं हो जाता, तब तक उसे पूरे दिन में 12-14 घंटे सोना चाहिए। 3 से 6 साल के बच्चे के लिए 11 से 13 घंटे की नींद जरूरी है।

जब बच्चा 6 से 10 साल के बीच हो जाए तो उसे 10 से 11 घंटे की भरपूर नींद दें। यह उसकी शारीरिक एवं मानसिक दोनों उन्नति के लिए जरूरी है।

अब बात करते हैं किशोरावस्था की, यह उम्र का ऐसा पड़ाव होता है जब हम कुछ भी समय से और सही मात्रा में करना पसंद नहीं करते। लेकिन नींद के मामले में कोई लापरवाही नहीं होनी चाहिए। किशोरावस्था में पहुंच चुके लोगों के लिए, जिनकी उम्र कम से कम 11 और अधिकतम 18 साल की हो उन्हें 9 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

अब 18 वर्ष की उम्र के बाद जब तक कोई व्यक्ति बूढ़ा ना हो जाए, उसे औसतन 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए। बुजुर्ग वयस्कों को 8 घंटे से कुछ कम नींद की जरूरत होती है।