भाजपा नेता का विवाद बयान- कर्ज नहीं बल्कि निजी समस्या की वजह से किसान कर रहे ख़ुदकुशी

भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने एक बात फिर से विवादित बयान दे दिया है और इस बार भी उन्होंने किसानों के बारे में बयान दिया है. पिछले २४ घंटों में २ किसानों की ख़ुदकुशी की घटना से जहाँ सभी हतप्रभ हैं वहीँ विजयवर्गीय के अनुसार इनके पीछे कर्ज की समस्या नहीं है बल्कि इन किसानों ने अपनी निजी समस्याओं की वजह से ख़ुदकुशी की.

kailash vijayvargeey

कैलाश विजयवर्गीय ने सरकार का बचाव करते हुए कहा कि मेरे सूत्रों के अनुसार कर्ज कि वजह से एक भी किसान ने आत्महत्या नहीं की है जबकि किसानों पर हुई फायरिंग के बाद सोमवार को ही शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सिहोर के एक किसान दुलचंद खीर ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली. किसान पर ६ लाख रुपयों का कर्ज था.

इससे पहले होशंगाबाद के एक 68 साल के किसान माखन लाल दिगोलिया की भी खुदकुशी की खबर आई थी। सेवनी मालवा के इस बुजुर्ग किसान ने पेड़ से लटककर जान दे दी।

हालाँकि यह पहली बार नहीं है जब कैलाश विजयवर्गीय ने ऐसी टिप्पणी की है. इससे पहले भी पुलिस फायरिंग में 5 किसानों के मारे जाने की घटना को उन्होंने छोटी मोटी घटना बताया था.