Advertisements

कानपुर ट्रेन हादसे का मास्टर माइंड नेपाल से गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के कानुपर में पिछले दिनों हुए रेल हादसे के मामले में मुख्य आरोपी शमसूल होदा समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. ये ट्रेन हादसे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के इशारे पर होते थे.

Advertisements

आरोपी शमसूल होदा ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के इशारे पर दुबई में बैठकर भारत की ट्रेनों को निशाना बनाने की साजिश रची थी. रेल हादसे के मुख्य संदिग्धों में से एक को दुबई से वापस भेजे जाने के बाद यहां नेपाल में काठमांडु के त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से गिरफ्तार किया गया है. नेपाल पुलिस के एक विशेष दल ने शमशुल हुदा को तीन अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया है.

Advertisements

ISI एजेंट शमसूल होदा  से आंध्र प्रदेश के कुनेरु के रेल हादसे और बिहार के घोड़ासहन में रेलवे पटरी पर बरामद हुआ आईईडी के बारे में भी पूछताछ की जा रही है. बिहार पुलिस की जांच में तीन संदिग्धों को गिरफ्तार किया था. पुलिस पूछपाछ में आरोपियों ने कबूल किया था कि उन्हें नेपाल के एक शख्स ब्रजेश गिरी से 3 लाख रुपए मिले थे. जिसके बाद नेपाल पुलिस ने ब्रजेश गिरी को गिरफ्तार किया था.

शमसूल होदा को दो दिनों की पूछताछ के बाद कलैया ले जाया गया है, यहां उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी. बारा जिला के एसपी नरेंद्र उप्रेती ने शमसूल को काठमांडू से कलैया ले जाने की पुष्टि कर दी है. सूत्रों के मुताबिक शमसूल होदा ने पूछताछ में अपने पाकिस्तान कनेक्शन को भी स्वीकार कर लिया है.

पिछले साल 20 नवंबर को इंदौर-पटना एक्सप्रेस पटरी से उतर गई थी इस रेल हादसे में लगभग 150 लोगों की मौत हो गई थी. जिसके बाद नेपाल पुलिस ने नेपाल से ब्रिज किशोर गिरी नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया जिसके फोन में एक ऑडियो क्लिप मिला था. इस ऑडियो क्लिप में कानपुर रेल हादसे की साजिश के बारे में बातचीत थी. नेपाल पुलिस ने एनआईए समेत तमाम जांच एजेंसियों को आडियो क्लिप सौंप दिए हैं. जिसके बाद एनआईए ने तीन एफआईआर दर्ज करके जांच शुरु कर दी थी.

Advertisements
Advertisements