क्या है असली और नकली दूध की पहचान?

Kya Hai Asli Aur Nakli Dudh Ki Pehchan?

आजकल खाने की हर दूसरी चीज़ मे मिलावट हो रही है। लोग क्या खाएं, कहां से लेकर खाएं यही सबसे बड़ा सवाल बन गया है। चलिए 2-3 चीज़ों में मिलावट हो तो समझ में भी आता है, लेकिन आजकल तो मिलावट करने वालों ने कोई भी चीज़ नहीं छोड़ी।Kya Hai Asli Aur Nakli Dudh Ki Pehchan

सबसे ज्यादा दूध के पीछे तो ये धोखेबाज़ ऐसे पड़े हैं मानो इसका सर्वनाश करके ही छोड़ेंगे। दूध हर घर की जरूरत है, खासतौर से भारतीय घरों की। जहां लोग अकेला दूध पीएं या ना पाएं, लेकिन चाय पीने के शौकीन यहां जरूर हैं। जिसके लिए उन्हें दूध, चाय की पत्ती और चीनी तीनों की जरूरत पड़ती हैं। और गुस्सा तो इस बात पर आता है कि इन तीनों में से कोई भी चीज़ बिना मिलावट के बहुत मुश्किल से मिलती है।

दूध में मिलावट करने का शौक तो लोगों का बहुत पुराना हो चुका है। लेकिन मिलावट के तरीके नए आ गए हैं। पहले-पहले दूध लाने वाला दूधी उसमें पानी मिलाकर लाता था। ताकि दूध पतला भी लगे और इसकी मात्रा भी बढ़ जाए।