Advertisement

Boor ke laddu jo khaye so pachhtaye na khay vah bhi pachhtaye लोकोक्ति (मुहावरे) का हिन्दी में अर्थ , meaning in Hindi

लोकोक्ति (मुहावरा) – बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय

लोकोक्ति (मुहावरे) का हिन्दी में अर्थ – ऐसा कार्य जिसको करने वाले तथा न करने वाले, दोनों ही पछताते हैं

बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय हिन्दी की एक प्रसिद्ध लोकोक्ति है जिसका प्रयोग अक्सर हिन्दी के लेख, निबंध आदि में किया जाता है।

बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय लोकोक्ति (मुहावरे) का वाक्य प्रयोग :-

लोकोक्ति का वाक्य प्रयोग – भैया शादी को बूर का लड्डू समझो। इसे तो जो खाए सो पछताए और जो न खाए सो पछताए।

Advertisement

लोकोक्ति का वाक्य प्रयोग – कुछ खेल ऐसे होते हैं जिसे खेले बिना रहा ना जाए और खेलने के बाद यदि हम उसमें हार जाते हैं तो भी निराशा हाथ लगती है जैसे बूर के लड्डू जो खाए वह पछताए जो न खाए वह भी पछताए जैसा सिद्ध होता है।

लोकोक्ति का वाक्य प्रयोग – जीवन में कुछ पल ऐसे आते हैं जिसे हम स्वीकार करते हैं तो भी पछताते हैं और अस्वीकार करते हैं तो भी पछताते हैं। फिर हमें कहना पड़ता है बुध के लड्डू जो खाए वह पछताए जो न खाए वह भी पछताए

हिन्दी की 1000 लोकोक्तियाँ – अर्थ, वाक्य प्रयोग 

कई बार लोग लोकोक्तियों (कहावतों) और मुहावरों को एक ही समझने की भूल कर बैठते हैं। मुहावरे और लोकोक्ति में अंतर को जानने के लिए इस लिंक पर जाएँ और मुहावरे और लोकोक्तियों का अंतर अच्छी प्रकार से समझें।

मुहावरे और लोकोक्ति में अंतर

Lokokti (Muhavra) – Boor ke laddu jo khaye so pachhtaye na khay vah bhi pachhtaye

Lokokti (Muhavre)ka Hindi mein arth – ais karya jisako karne vale tath na karne vale, donon hi pachhatate hain

Boor ke laddu jo khaye so pachhtaye na khay vah bhi pachhtaye Lokokti ka Vakya prayog

Advertisement

Meaning of Lokokti Kahavat Boor ke laddu jo khaye so pachhtaye na khay vah bhi pachhtaye in English

बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय कहावत का हिन्दी में अर्थ और वाक्य प्रयोग

यहाँ पर हमने इस लोकोक्ति (कहावत) के बारे में निम्न बातें समझाई हैं:-

बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय in English ; बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय sentence ; बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय vakya prayog ; बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय का वाक्य प्रयोग ; बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय पर कहानी ; बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय मुहावरे का अर्थ क्या होगा ; बूर के लड्डू जो खाए सो पछताए, जो न खाय वह भी पछताय लोकोक्ति का अर्थ क्या होगा

विभिन्न कक्षाओं के लिए हिन्दी की कहावतों लोकोक्तियों की जानकारी के लिए इन लेखों को पढें:

Hindi Lokoktiyan for Class 5

Hindi Lokoktiyan for Class 6

Hindi Lokoktiyan for Class 7

Hindi Lokoktiyan for Class 8

Hindi Lokoktiyan for Class 9

Hindi Lokoktiyan for Class 10

10 प्रसिद्ध लोकोक्तियों का हिन्दी में अर्थ और वाक्य प्रयोग

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here