Advertisement

लखनऊ . मंगलवार को सुबह 10 बजे आगरा-लखनऊ ताज एक्सप्रेस वे पर एक के बाद एयर फोर्स के कई विमान टच डाउन कर निकले. सबसे पहले दुनिया के सबसे बड़े मालवाहक जहाज C130J सुपर हरक्यूलिस विमान ने लैंड किया.

इसके बाद एक के बाद एक मिराज, जेगुआर और सुखोई जेट्स के फ्लीट ने एक्सप्रेस वे को टच डाउन किया और वापस अपने-अपने बेस की तरफ बढ़ गए.

सबसे पहले सुपर हरक्यूलिस की लैंडिंग की हुई. इससे गरुड़ कमांडो एक्सप्रेस-वे पर उतरे. इस दौरान जगुआर, सुखोई और मिराज फाइटर जेट लैंडिंग और टेकऑफ करेंगे.

उल्लेखनीय है कि दूसरी बार आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर फाइटर प्लेन लैंड कर रहे हैं. पिछले साल 21 नवंबर को भी इसी एक्सप्रेस वे पर टचडाउन हुआ था.

Advertisement

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे कुल 302 KM का है. इसमें 6 लेन बने हुए हैं. एक्सप्रेस वे पर जिस एरिया में एयर स्ट्र‍िप बनाया गया है, वह उन्नाव जिले के बांगरमऊ क्षेत्र में आता है. इस ​ए​यर स्ट्रिप की ​लंबाई 3​.3​ किलोमीटर है.

डिफेंस से जुड़े ऑफिशियलस​ की मानें तो ​यह क्षेत्र चीन ​(डोकलाम बॉर्डर) ​​और पाकिस्तान ​(राजस्थान से लगे बॉर्डर) की मिसाइल रेंज से बाहर है. इमरजेंसी में फाइटर जेट यहां से ​आसानी से ​उड़ान भर सकेंगे.

एयरफोर्स की इस एक्सरसाइज की वजह से आस-पास के गांव के लोगों में बहुत उत्साह है. गांव वाले एक्सप्रेस-वे पर बन रही एयर स्ट्र‍िप को देखने आ रहे हैं.

वहीं इससे पहले सोमवार को टचडाउन 100 टैंकर पानी से आगरा एक्सप्रेस-वे की धुलाई की गई. छोटे-छोटे सुराख तक को सीमेंट के घोल से भर दिया गया है.

रन-वे के दोनों तरफ 100 फीट की फेसिंग लगाई गई है, ताकि कोई अंदर नहीं आ सके. बैठने के लिए सोफे, कुर्सियां लगाई गई हैं. एयरफोर्स के अफसरों ने ड्रोन कैमरे के जरिए पूरे इलाके की निगरानी भी की.

यूपी में फाइटर जेट्स के लिए इलाहाबाद एयरबेस मुख्य है. इनके अलावा लखनऊ के बीकेटी एयरबेस पर भी मिग फाइटर प्लेन उतरते रहे हैं, लेकिन यहां ट्रांसपोर्ट प्लेन सी 130 को अभी तक नहीं उतारा गया है. वहीं, बनारस और गोरखपुर एयरपोर्ट पर भी फाइटर प्लेन को उतारा जा सकता है.

Advertisement

इन फाइटर प्लेन ने की लैंडिंग
#2 जोड़ी- जगुआर
#3 जोड़ी-मिराज 2000
#3 जोड़ी-सुखोई 30
#1 सी-130

 

Advertisement