Advertisement

जैशे मोहम्मद का सरगना मौलाना मसूद अज़हर कि गिरफ़्तारी कि ख़बरों पर चल रही अटकलों को साफ़ करते हुए पाकिस्तान के कानून मंत्री राणा शानउल्लाह खान का बयान आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि मसूद अज़हर को गिरफ्तार नहीं किया गया है बल्कि यह एक सुरक्षात्मक हिरासत (Protective Custody) है!

Jaish-e-Mohammadmaz
डॉन न्यूज़ टॉक शो के दौरान इस मुद्दे पर बात करते हुए मंत्री ने कहा कि मौलाना को काउंटर टेररिज्म विभाग ने सुरक्षात्मक हिरासत में लिया है!

हालाँकि जब उनसे यह सवाल पुछा गया कि क्या इसे गिरफ़्तारी का नाम दिया जा सकता है, मंत्री राणा ने जवाब दिया कि मौलाना तभी कानूनी कार्यवाही का सामना करेंगे जब उनके खिलाफ पठानकोट में हुए हमले में उनकी संलिप्तता के पर्याप्त सबूत नहीं मिल जाते!

भारत का यह आरोप है कि 2 जनवरी को पठानकोट में हुए हमले में शामिल सभी आतंकी जैशे मोहम्मद से जुड़े हुए थे जिसका चीफ मौलाना मसूद अज़हर है!

Advertisement
Advertisement