कैसे स्थापित की जाए माता लक्ष्मी की चौकी

दीपावली के दिन पूजा के लिए मां लक्ष्मी किस प्रकार स्थापित करना है? यह ध्यान रखने वाली बात है। मां लक्ष्मी की चौकी विधि विधान से सजाई जानी चाहिए। चौकी पर लक्ष्मी व गणेश की मूर्तियां इस प्रकार रखें कि उनका मुख पूर्व या पश्चिम में रहे। लक्ष्मी जी, गणेश जी के दाहिनी ओर स्थापित करें। कलश को लक्ष्मी जी के पास चावल पर रखें। नारियल का आगे का भाग दिखाई दें और इसे कलश पर रखें। यह कलश वरूणदेव का प्रतीक है।

Mata Lakshmi ki chauki kaise sthapit Karen?अब दो बड़े दीपक रखें। एक घी व दूसरे में तेल का दीपक लगाएं । एक दीपक चौकी के दाहिनी ओर रखें एवं दूसरा मूर्तियों के चरणों में। इसके अतिरिक्त एक दीपक गणेश जी के पास रखें।

लक्ष्मी की कृपा के लिए कैसे सजाएं छोटी चौकी?

दीपावली पर लक्ष्मी पूजन के समय एक चौकी पर मां लक्ष्मी और श्री गणेश आदि प्रतिमाएं स्थापित की जाती हैं। इसके अतिरिक्त एक छोटी चौकी भी बनाई जाती है। शास्त्रों के अनुसार इस चौकी की विधि विधान से सजाना चाहिए। इस छोटी चौकी को इस प्रकार सजाएं।

मूर्तियों वाली चौकी के सामने छोटी चौकी रख कर उस पर लाल वस्त्र बिछाएं। फिर कलश की ओर एक मुट्टी चावल से लाल वस्त्र पर नव ग्रह की प्रतीक नौ ढेरियां तीन लाईनों में बनाएं। गणेश जी ओर चावल की सोलह ढेरियां बनाएं। यह सोलह ढेरियां मातृका की प्रतीक हैं।

नव ग्रह व सोलह मातृका के बीच में स्वास्तिक का चिन्ह बनाएं। इसके बीच में सुपारी रखें व चारों कोनों पर चावल की ढेरी रखें। लक्ष्मी जी की ओर श्री का चिन्ह बनाएं। गणेश जी की ओर त्रिशूल बनाएं। एक चावल की ढेरी लगाएं जो कि ब्रह्मा जी की प्रतीक हैं।

सबसे नीचे चावल की नौ ढेरियां बनाएं जो मातृक की प्रतीक बहीखाते एवं सिक्कों की थैली भी रखें। इस प्रकार मां लक्ष्मी की चौकी सजाने पर भक्त को साल भर पैसों की कोई कमी नहीं रहती है।