Advertisements

Mobile Marketing क्या है और क्यों जरुरी है? Mobile Marketing kya hai aur kyon jaruri hai?

Mobile Marketing क्या है और क्यों जरुरी है?

मोबाइल मार्केटिंग क्या है ?

आज के समय में अधिकतर लोगों के पास mobile phone की सुविधा है और लोग अपने जरुरी काम से लेकर entertainment तक mobile की सहायता से कर रहे हैं । ऐसे में marketing भला mobile से क्यों ना हो ? Business करने वालों को अपना सामान या service बेचने के लिए ग्राहक तो चाहिए हीं, तो क्यों ना mobile का सहारा लिया जाये जिसे कि बहुत से लोग प्रयोग कर रहे हैं । ऐसे में product / service का प्रचार बहुत आसानी से और अधिक लोगों तक हो जाता है ।

Advertisements

तो अब तो आप को पता लग ही गया होगा कि ऐसी marketing जिसमें mobile का use करके marketing की जाती है, mobile marketing कहलाती है । इस प्रकार की marketing में product / service का advertisement, SMS notification और shopping सब कुछ mobile द्वारा ही किया जाता है ।

Mobile Marketing, Customers और Business World

Mobile Marketing में कोई भी company बड़ी आसानी से अपने ग्राहक को पहचान सकती है । जब भी हम कुछ search करते हैं तो marketing company यह जान जाती है कि हमारी requirement क्या है ? इसी बात को ध्यान में रखकर हमारी interest के अनुसार products / services के add हमारे mobile पर आने लगते हैं । इस प्रकार से marketing companies एक प्रकार से सीधे customers के साथ जुड़ जाती हैं । जितने भी business ऊँचाई पर हैं वे सब mobile marketing का प्रयोग कर रहे हैं और जो नहीं कर रहे उन्हें उस ऊँचाई तक पहुँचने में बहुत समय लगने वाला है ।

Advertisements

मोबाइल मार्केटिंग कैसे काम करता है?

जब आप किसी चीज को search करते हैं तो ये चीज marketing companies को पता चल जाती है और आपके search के अनुसार ये कम्पनीज products / service के adds आपके social media पर show करने लगते हैं । आपने नोट भी किया होगा कि यदि आप hair colour या कोई और cosmetic products को search करते हैं तो आपके smart phone या tablet की स्क्रीन पर उसके या उसके जैसे product के add आने शुरू हो जाते हैं । आप चाहें social media पर हों, कोई website देख रहे हों या कोई app use कर रहे हों, ये adds उसके अनुसार अलग-अलग formats और styles में आपको दिखाई देते हैं

हमें Mobile Marketing Strategy की क्यूँ जरुरत है?

वह जमाना जा चुका है जब हमारे पड़ोस में गिने-चुने लोगों के पास ही internet की सुविधा और smart phone हुआ करते थे । आजकल तो हर घर में आपको कम से कम दो smart phone और अगर बच्चे बड़े हैं तो दो से भी अधिक smart phone मिल जायेंगे । यही नहीं अब तो पहले के मुकाबले internet (data plan) भी बहुत सस्ता है । चाहे पढ़ाई के लिए कुछ खोजना हो, कोई transaction करनी हो, अपने office का कुछ काम हो या entertainment हर कोई smart phone का सहारा लेता है । इन्हीं बातों को देखते हुए अपने business को बढ़ाने के लिए Mobile Marketing Strategy की जरूरत है ।

Advertisements

Types of Mobile Marketing Strategies

यह तो आपको पता ही चल गया कि हमें Mobile Marketing Strategy की जरुरत क्यों है । लेकिन ये Mobile Marketing Strategy भी अलग-अलग प्रकार की होती हैं । हम कौन सा व्यापार करते हैं, यह व्यापार हम किन लोगों को ध्यान में रखकर कर रहे हैं और हमारा बजट कितना है, ये कुछ बाते हैं जो decide करती हैं कि कौन सी Mobile Marketing Strategy अपनाई जाये । तो चलो जानते हैं कि कौन-कौन सी Mobile Marketing Strategies होती हैं ।

• SMS – कुछ companies अपने product या service से सम्बंधित adds भेजते हैं जिससे interested user उसके बारे में जानकार वह सामान खरीद सकें ।

• Mobile Search Ads – आपने कई बार अपने smart phone पर ऐसे ads देखे होंगे जिनमे click to call या maps के add-on extensions होते हैं । ये होते तो Google Search Ads ही हैं पर इन्हें smart phone के लिए बनाया गया होता है ।

• Mobile Site Links – Mobile Marketing में Mobile Site Link एक बहुत ही बढ़िया strategy है । इसमें users को एक link मिलता है जिस पर click करके वे सीधा किसी खास website के खास page पर पहुँच जाते हैं ।

Advertisements

• Google Offer for Mobile – Users का ध्यान अपनी और खींचने के लिए Google द्वारा Mobile Ad Extension का offer दिया जाता है । इसमें advertiser अपने add के नीचे discount offer या coupon डाल देते हैं जिससे users उनकी और आकर्षित हो जाते हैं ।

• App-based Marketing – Google Ad-mob की सहायता से advertisers add बनाकर third party mobile apps में advertise करते हैं । Facebook की सहायता से भी advertisers add बनाकर facebook mobile app में advertise करते हैं ।

• In-Game Mobile Marketing – कई बार आपने देखा होगा कि जैसे ही हम mobile पर कोई game शुरू करते हैं तो screen loading के समय ads दिखाई देते हैं । यह भी एक तरह की mobile marketing की strategy है ।

• QR Codes – QR Codes में जब भी कोई user इसे scan करता है तो वह पहले उसी web page पर जाता है जहाँ advertiser ने add डाला होता है । Advertiser इन QR Codes में अपने add को भी डाल देते हैं ।

मोबाइल मार्केटिंग की Best Practices क्या हैं ?

अब बात करते हैं कि Mobile Marketing की Best Practices kya होनी चाहियें ।

• सबसे महत्वपूर्ण बात कि आपका add बिलकुल clear और concise होना चाहिए जिससे users उसे ignore ना करें ।

Advertisements

• हमें users के interest को ध्यान में रखना होगा । जिससे user जिस तरह के content पर जा रहा है उससे related ही ads उसके mobile पर आयें ।

• जैसे कि आपको पता ही चल गया है कि Mobile Marketing की कई strategies हैं अब आपको देखना होगा कि कौन सी strategy आपके लिए फायदेमंद है और यह तभी होगा जब आप इनके साथ experiment करेंगे ।

• Experiment के बाद अब बात आती है उसके result को देखने कि जिस पर ध्यान देना बहुत जरुरी है । यदि आप इन results का track रखते हैं तो आप अपने experiment बदल भी सकते हैं अन्यथा आपको नुक्सान भी झेलना पड़ सकता है ।

• जो भी search होती हैं उनमें 3 में से 1 search local होती है और इस बात का आपको ध्यान रखने की जरुरत है जिससे कि ज्यादा से ज्यादा users local हों ।

मोबाइल मार्केटिंग में Privacy और Security

Mobile Marketing में Marketers की यह जिम्मेदारी है कि users के contact numbers और अन्य details सुरक्षित रहें जिससे कि इनका दुरूपयोग ना हो सके । इसके लिए मर्केतेर्स को इन बातों का ध्यान रखना होगा ।

• चाहे कुछ भी हो आप अपने customers के details किसी के साथ भी share ना करें ।

• ऐसी process हो कि जिसमें users की permission के बगैर marketers users को message ना कर सकें । इससे users का marketers पर विशवास बढ़ेगा कि उनके ऊपर कोई चीज़ थोपी नहीं जा रही है ।

मार्केटिंग कैसे शुरू करें?

कोई भी काम यही सही तरीके से सोच-समझ कर किया जाये तो उसका result अच्छा ही होता है और mobile marketing के सम्बन्ध में भी यही बात है । इसे शुरू करने से पहले आप नीचे दी गई बातों पर ध्यान जरूर दें ।

• सबसे पहले किसी अच्छे स्थान से इसकी training लें जिससे आपके इसकी अच्छी समझ हो सके ।
• इसके बाद बात आती है practical knowledge की । इस field में काम कर रही agency में काम करके इसकी practical knowledge लें ।
• अब जब आपने practical knowledge ले ली है तो अपने को evaluate करें कि आप इस field में काम शुरू करने के लिए कितने तैयार हैं ।
• अब जब आप काम करने के लिए तैयार हैं तो आपको काम शुरू करने के लिए कुछ finance की भी व्यवस्था करनी होगी ।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisements